2020 तक दुनियाभर में इस बीमारी से होंगी सबसे ज्यादा मौतें

आजकल लोग स्‍वस्‍थ जीवनशैली की जगह मॉडर्न लाइफस्‍टाइल में ज्‍यादा विश्‍वास करते हैं। इस वजह से ना केवल उनके शरीर में बीमारियां बढ़ रही हैं बल्कि देश और दुनिया में इन बीमारियों की वजह से मृत्‍यु दर में भी बढ़ोत्तरी हुई है। कई बार रिसर्च में यह बात सामने आ चुकी है। जीवनशैली में एक बड़े बदलाव के चलते लोग कई बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। डायबिटीज़, हार्ट अटैक, हाई ब्‍लड प्रेशर आदि इसी की देन हैं।

हाल ही में एक स्‍टडी में सामने आया है कि साल 2020 तक युवाओं की सबस ज्‍यादा मौतें दिल की बीमारी की वजह से नहीं बल्कि लीवर की बीमारी के कारण होंगी। इस रिसर्च के परिणाम वाकई काफी चौंकाने वाले हैं क्‍योंकि इस रिसर्च के अनुसार युवाओं को हार्ट अटैक आए जबकि हार्ट अटैक जैसी बीमारी अधिक उम्र के लोगों को आता है। इसके साथ ही इस स्‍टडी में लिवर की बीमारी के मुख्‍य कारण शराब के सेवन और कम उम्र में ही मोटापे का शिकार होने को बताया है। यह स्‍टडी यूके की साउथहैंपटन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं द्वारा की गई है।

{ यह भी पढ़ें:- अपनायें ये तरीके, पुराने प्यार को भुलाने में होंगे कामयाब }

मेडिकल जर्नल लेंसेट में प्रकाशित इस स्‍टडी के मुताबिक 2020 तक लोगों में लिवर की बीमारी, दिल का रोग ज्‍यादा होंगें। इस बीमारी के लिए शराब और मोटापा जिम्‍मेदार होंगें। आपको जानकर हैरानी होगी कि ससाल 2020 तक लगभग 80,000 लोगों की मौत लिवर की बीमारी की वजह से होगी। इसके मुकाबले दिल की बीमारी के कारण होने वाली मौतें 76,000 होंगीं।इस रिसर्च में शामिल हुए साउथहैंपटन यूनि‍वर्सिटी के प्रोफेसर और लिवर एक्‍सपर्ट निक शैरॉन के मुताबिक मरने वालों में ज्‍यादातर लोग युवा और मध्‍य वर्ग के होंगें।

ये बात बेहद चौंकाने वाली है कि आने वाले कुछ सालों में कम उम्र में ही लोग घातक बीमारियों का शिकार हो जाएंगें। इसका असर उनकी आयु पर भी पड़ेगा यानि की अब जो लोग 70 से 80 साल जीते हैं वो आयु सीमा आगे चलकर घट सकती है। इन कारकों को लेकर लोगों को कई बार चेताया गया है कि वो अपनी भागदौड़ भरी जिंदगी में व्‍यायाम को भी शामिल करें और हर तरह की बीमारी से दूर रहें लेकिन व्‍यायाम से दूरी और स्‍वस्‍थ आहार का ना होना लोगों को बीमार बना रहा है। 2020 को आने में अब सिर्फ 3 साल का समय रह गया है। देखा जाए तो अपनी लाइफस्‍टाइल में बदलाव कर स्‍वस्‍थ होने के लिए ये समय कम नहीं है। अगर आप आज से ही शुरुआत करेंगें तो इस तरह की घातक बीमारियों के खतरों से बच पाएंगें।

{ यह भी पढ़ें:- शारीरिक सम्बन्ध से मिलता है माइग्रेन की समस्या से छुटकारा }

प्रदूषण भी इसका प्रमुख कारण हो सकता है। इसके अलावा आज देश की बड़ी आबादी मोटापे का शिकार है और इस वजह से उनमें एक नहीं बल्कि कई बीमारियां पनप रहीं हैं। अगर लोग कुछ बुरी आदतों को छोड़ दें तो उन्‍हें ऐसी चीज़ों से मुक्‍ति मिल सकती है। मेरी ये राय आपके लिए भी है। अगर आप इस बात को मानेंगें तो इसमें आपकी और आपके परिवार की ही भलाई है। स्‍वस्‍थ आहार और नि‍यमित व्‍यायाम से हर रोग से बचा जा सकता है। बेहतर होगा आप आज से ही बदलाव शुरु करें और स्‍वस्‍थ जीवन जीएं।

Loading...