इन अंगों पर किस करने से मचल कर बाहों में आ जाती है औरतें

जब शारारिक सम्बन्ध बनाने की आती हैं तो दिल-दिमाग दोनों में ही थोड़ी हिचकिचाहट पैदा होती है। यह इतना आसान नहीं होता, जितना लगता है। लेकिन अगर आप पहले अपने पार्टनर के साथ नजदीकियां बढ़ा ले तो इतना मुश्किल भी नहीं होगा ।  कुछ जरूरी टिप्स हम आप को बता रहे है जिससे पार्टनर को इस तरह से प्यार से सहलाए कि वह खुद-ब-खुद आपकी बांहों में आ जाए।

1 . होंठ पर किस करें

होठ के बारे में क्या कहना? आखिर प्यार की शुरुआत ही तो होठों से होती है। प्यार भरा चुम्बन इसी से शुरू होता है लेकिन यह भी सही तरीके से लिया जाना चाहिए। अगर आपकी साथी चुम्बन के लिए तैयार नहीं है तो आप शुरुआत जबरदस्ती न करते हुए किसी बात से करें।

2 . माथे पर

पुरुष हो या महिला दोनों के शरीर का ये भाग बहुत ही संवेदनशील होता है लेकिन महिलाओं का कुछ ज्यादा ही होता है। उन्हें अपने प्यार का इजहार करने इरादे से धीरे धीरे माथे को सहलाएं और हल्की मालिश करे। इससे उनका शरीर और दिमाग दोनों ही तनावमुक्त होगा। उसके बाद आप प्यार भरा केयरिंग किस करके शुरुआत कर सकते हैं।

3 . गर्दन पर किस करें

गर्दन शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा होता है। एक हलके से स्पर्श से ही पुरे बदन में झुरझुरी दौड़ जाती है। इसलिए गले लगाकर या गर्दन पर चूमकर आप उनके नजदीक आ सकती है।

4 . कान पर

शायद आपको पता न हो कि कान पर किस करने से गजब की उत्तेजना आती है। आप उनके कान के पास चुम्बन करते हुए उनके कान में कुछ ऐसा रोमेंटिक कह दें कि वह आपके पास आने पर मजबूर हो जाएं।

5 . स्तन पर किस करें

एक औरत के शरीर में सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाला और सबसे खूबसूरत हिस्सा स्तन ही होते है। स्तन से एक लड़की को पूर्णता का अहसास होता है। एेसे में आगे कुछ कहने की जरूरत नहीं है आप समझदारी से उन्हें अपनी बांहों में समेट सकते हैं।

6 . पेट और पीठ पर

दिन भर की थकान के बाद सबसे सुकून तब मिलता है जब कोई पीठ पर मालिश कर दें। अब आप और आपकी साथी दोनों ही दिन बाहर के थके हो लेकिन प्यार करने का इरादा भी हो तो शुरुआत पीठ पर मालिश करके भी की जाती है। पीठ को हल्के हल्के सहलाने से शरीर तनाव मुक्त होता है। अगर वह तनावमुक्त हो जाती हैं तो नजदीक आना भी लाजमी है।

7 . पैर पर

गर्दन शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा होता है। एक हलके से स्पर्श से ही पुरे बदन में झुरझुरी दौड़ जाती है। इसलिए गले लगाकर या गर्दन पर चूमकर आप उनके नजदीक आ सकती है।

अगर आप माथे को सहलाने की जगह पैर से शुरुआत करना चाहते है तो ये भी काफी असरदार होता है। पैर पर मालिश करने से तनाव तो दूर होता ही है। सही तरीके से पैर की उंगलियां सहलाने से शरीर में उत्तेजना का संचार भी होता है। कुछ महिलाएं सबसे ज्यादा उत्तेजित तब होती है जब कोई उनके खूबसूरत पैरों को सहलाता है और चूमता है। वैसे भी उन्हें सबसे ज्यादा खुशी तब मिलती है जब उनका आशिक उनके पैरों को चूमता है। सही तरीके से पार्टनर को छूकर आप अपने साथी को न सिर्फ तनाव दूर कर सकते हैं बल्कि उन्हें खुशनुमा संबंध बनाने के लिए तैयार भी कर सकते हैं।