उपचुनाव नतीजे: नोटबंदी पर घिरी बीजेपी को मिली जीत, कांग्रेस के हाथ फिर फिसले

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नोटबंदी के फैसले के बाद चार लोकसभा सीटों और आठ विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनावों में बीजेपी अपने कब्जे वाली मध्यप्रदेश और असम की दोनों लोकसभा सीटें जीत लीं है। इसके अलावा असम, अरूणाचल प्रदेश और मध्यप्रदेश में तीन विधानसभा जीतने में कामयाब रही। नोटबंदी के मुद्दे पर बीजेपी को घेरने वाली कांग्रेस को एक मात्र सफलता पांडिचेरी में हाथ लगी जहां सत्तारूढ़ कांग्रेस के मुख्यमंत्री स्वयं प्रत्याशी थे।




चुनाव नतीजों की समीक्षा की जाए तो पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल की दोनों लोकसभा सीट और एक विधानसभा सीट जीतने में तीनों विधानसभा सीटों पर कब्जा कायम रखा। यहां भी बीजेपी के लिए एक अच्छी खबर ये रही कि उसने सभी सीटों पर दूसरे स्थान पर रहने वाली माकपा को तीसरे स्थान पर धकेल दिया। तमिलनाडु में दो विधानसभा सीटों पर हुए उप चुनावों में एआईडीएमके को जयललिता की बीमारी से मिली सहानुभूति ने विजयी बनाया। वहीं त्रिपुरा की एक मात्र विधानसभा सीट माकपा के हाथ लगी।




इन उपचुनावों के नतीजों ने नोटबंदी के मुद्दे पर सड़क से लेकर संसद तक घिरी बीजेपी को कठिन समय में एक मजबूत आधार दे दिया है। इस उपचुनाव से ठीक एक सप्ताह पहले लागू हुई नोटबंदी ने विरोधियां को एक मजबूत मुद्दा दे दिया था, उम्मीद की जा रही थी कि इन उप चुनावों के नतीजे बीजेपी को एक बार सोचने को मजबूर कर देंगे।