1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. इस तरह Amazon कंपनी को लगा दो करोड़ रुपये का चूना, जानें क्या है पूरा मामला

इस तरह Amazon कंपनी को लगा दो करोड़ रुपये का चूना, जानें क्या है पूरा मामला

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में साइबर सेल व हजरतगंज की संयुक्त पुलिस टीम ने अमेजन कंपनी से ऑनलाइन फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है। वहीं पुलिस का दावा है कि आरोपितों ने करीब दो करोड़ रुपये की जालसाजी की है। गिरोह के तीन लोगों को गिरफ्तार कर पुलिस छानबीन कर रही है। आरोपित कंपनी की वेबसाइट से पहले महंगे फोन का ऑर्डर करते थे और डिलीवरी ब्वॉय को झांसे में लेकर फोन निकालने के बाद पैकेट में साबुन रख देते थे।

साइबर सेल के मुताबिक तीनों आरोपी अमेजन साइट पर शॉपिंग के लिए फर्जी आईडी बनाकर पूरे केसको अंजाम देते थे। इस मामले में मूलरूप से नई दिल्ली के जंगपुरा रोड निवासी कंपनी के अधिकृत प्रतिनिधि अधिवक्ता जितेंद्र सैनी ने हजरतगंज कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

दरअसल, कंपनी की जांच में पूरा फर्जीवाड़ा उजागर हुआ था। पकड़े गए आरोपितों में मूलरूप से राजस्थान के जयपुर सांगानेर निवासी धारा सिंह, जाजवार्ड के दामस्या निवासी प्रहलाद सिंह और जयपुर के बस्सी जाजवार्ड निवासी राजकुमार मीना उर्फ राहुल शामिल हैं।

वहीं, आरोपितों ने पूछताछ में दो साल से फर्जीवाड़े की बात स्वीकार की है। आरोपित फर्जी आइडी पर सिम लेकर पहले ईमेल बनाते थे और फिर ऑनलाइन शॉपिंग करते थे। इसके लिए वह कंपनी में फर्जी आइडी से रजिस्टेशन कराने के बाद आइफोन एक्स व अन्य कीमती फोन ऑर्डर करते थे। खास बात यह है कि आरोपित अलग-अलग शहरों में जाकर रहते थे और फर्जी पते पर ऑर्डर बुक कराते थे। 

ऐसे करते थे हेरा-फेरी

साथ ही आर्डर की डिलीवरी बॉय को आरोपी दिए गए पते पर न बुलाकर रास्ते में ही कहीं रोक लेते थे। अपने साथ स्कार्पियो लेकर चलते थे, जिसमें एक युवक बैठा रहता था और दो डिलीवरी ब्वॉय को बातों में उलझा लेते थे। इस बीच गाड़ी में बैठा युवक तेजी से पैकेट में रखा फोन निकाल लेता था उसके स्थान पर कपड़े धुलने का साबुन रख देता था। 

यही नहीं ऑनलाइन आर्डर रिसीव करते समय डिलीवरी ब्वॉय को एक ओटीपी देनी होती थी। आरोपित कंपनी की ओर से ओटीपी नहीं आने की बात कहकर कुछ देर रोके रहते थे। ठगी करने के बाद वह डिलीवरी ब्वॉय को पैकेट वापस कर वहां से फरार हो जाते थे।

three fraudster of amazon

ये सब करने के बाद वे ऑनलाइन ऑर्डर कैंसिल कर कंपनी से बुकिंग का रुपया भी हासिल कर लेते थे। आरोपितों ने एक जिले में 10 से 15 लाख रुपये की ठगी की बात कबूल की है। पूछताछ में उन्होंने जयपुर, दिल्ली और राजस्थान समेत कई स्थानों पर जाकर फर्जीवाड़ा करने की बात बताई है। पुलिस ने दो आइफोन, 19 अन्य कंपनियों के फोन, एक स्कार्पियो और पैकेजिंग के अन्य सामान बरामद किए हैं।

डिलीवरी ब्वॉय अपने अन्य आर्डरों को डिलीवर कर बचे आर्डर को वापस ले जाकर कंपनी के सीतापुर रोड योजना सेक्टर ई स्थित डिलीवरी स्टेशन पर रख देता था। इसके बाद वहां पर पैकेट से मोबाइल फोन की जगह साबुन निकलने की जानकारी होती थी। कंपनी को जब एक ही तरह की कई शिकायतें मिली तो उन्होंने छानबीन की, जिसके बाद पूरी कहानी सामने आई। 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...