CAA Protest: हिंसा करने वाले उपद्रवियों के UP पुलिस ने चौराहों पर लगाये पोस्टर, 15 लाख की भरपाई के नोटिस भी जारी

CAA Protest
CAA Protest: हिंसा करने वाले उपदवियों के UP पुलिस ने चौराहों पर लगाये पोस्टर, 15 लाख की भरपाई के नोटिस भी जारी

लखनऊ। नागरिकता क़ानून को लेकर बीते शुक्रवार को यूपी के कई इलाकों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। जिसके बाद यूपी सरकार ने हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के दिशा निर्देश दिये थे और कहा गया था कि उपद्रवियों की सम्पत्ति जब्त कर नुकसान की भरपाई की जायेगा। यूपी पुलिस ने हिंसा रूकने के बाद से ही कार्रवाई शुरू कर दी है। रामपुर में सरकारी संपत्तियों को पहुंचे नुक़सान पर 28 लोगों को क़रीब 15 लाख की भरपाई का नोटिस जारी की गयी है वहीं कई शहरों में प्रशासन ने हिंसा में शामिल उपद्रवियों के पोस्टर चौराहों पर चिपका दिए हैं।

Caa Protest Up Police Put Up Posters Of Violence Causing Nuisances Issued Notice Of Compensation Of 15 Lakhs :

रोजाना यूपी पुलिस द्वारा यूपी के अलग-अलग शहरों से हिंसा के दिन के नए-नए वीडियो सोशल मीडिया पर डाले जा रहे हैं। हाल ही में यूपी पुलिस ने मेरठ का एक वीडियो जारी किया है, जिसमें प्रदर्शन में शामिल दो लोगों के हाथों में पिस्तौल दिख रही है, जिन्होने चेहरे पर मास्क भी पहन रखे हैं और वो गोली चलाते हुए भी दिख रहे है। यूपी पुलिस ने अभी तक जो वीडियो एकत्र किये हैं उसके मुताबिक सौ से ज़्यादा लोगों की पहचान कर उनकी तस्वीरें जारी की गई हैं। पुलिस आम लोगों से इनके बारे में जानकारियां साझा करने की अपील कर रही है, ताक़ि उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जा सके।

CM योगी के ‘बदला’ वाले बयान के बाद नुकसान की भरपाई के लिए रामपुर में भी 28 प्रदर्शनकारियों को नोटिस थमाई गयी है। जिसमें सार्वजनिक संपत्ति को हिंसा की वजह से हुए 14.86 लाख रुपये के नुकसान की भरपाई के लिए कहा गया है। यहां पर हिंसा के दौरान एक की मौत हो गयी थी जिसके बाद उपद्रवियों ने 4 मोटर साइकिलों और पुलिस की एक जीप को आग लगा दी थी। आपको बता दें कि यूपी में हिंसक प्रदर्शनों के दौरान 21 लोगों की मौत हुई थी, जिसमें सबसे ज़्यादा छह मौतें मेरठ में ही हुई थीं। वहीं फिरोजाबाद में 4, कानपुर में 3, बिजनौर में 2, संभल में 2, वाराणसी में 1, लखनऊ में 1, मुजफ्फरनगर में 1 और रामपुर में 1 की मौत हुई है।

लखनऊ। नागरिकता क़ानून को लेकर बीते शुक्रवार को यूपी के कई इलाकों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। जिसके बाद यूपी सरकार ने हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के दिशा निर्देश दिये थे और कहा गया था कि उपद्रवियों की सम्पत्ति जब्त कर नुकसान की भरपाई की जायेगा। यूपी पुलिस ने हिंसा रूकने के बाद से ही कार्रवाई शुरू कर दी है। रामपुर में सरकारी संपत्तियों को पहुंचे नुक़सान पर 28 लोगों को क़रीब 15 लाख की भरपाई का नोटिस जारी की गयी है वहीं कई शहरों में प्रशासन ने हिंसा में शामिल उपद्रवियों के पोस्टर चौराहों पर चिपका दिए हैं। रोजाना यूपी पुलिस द्वारा यूपी के अलग-अलग शहरों से हिंसा के दिन के नए-नए वीडियो सोशल मीडिया पर डाले जा रहे हैं। हाल ही में यूपी पुलिस ने मेरठ का एक वीडियो जारी किया है, जिसमें प्रदर्शन में शामिल दो लोगों के हाथों में पिस्तौल दिख रही है, जिन्होने चेहरे पर मास्क भी पहन रखे हैं और वो गोली चलाते हुए भी दिख रहे है। यूपी पुलिस ने अभी तक जो वीडियो एकत्र किये हैं उसके मुताबिक सौ से ज़्यादा लोगों की पहचान कर उनकी तस्वीरें जारी की गई हैं। पुलिस आम लोगों से इनके बारे में जानकारियां साझा करने की अपील कर रही है, ताक़ि उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जा सके। CM योगी के 'बदला' वाले बयान के बाद नुकसान की भरपाई के लिए रामपुर में भी 28 प्रदर्शनकारियों को नोटिस थमाई गयी है। जिसमें सार्वजनिक संपत्ति को हिंसा की वजह से हुए 14.86 लाख रुपये के नुकसान की भरपाई के लिए कहा गया है। यहां पर हिंसा के दौरान एक की मौत हो गयी थी जिसके बाद उपद्रवियों ने 4 मोटर साइकिलों और पुलिस की एक जीप को आग लगा दी थी। आपको बता दें कि यूपी में हिंसक प्रदर्शनों के दौरान 21 लोगों की मौत हुई थी, जिसमें सबसे ज़्यादा छह मौतें मेरठ में ही हुई थीं। वहीं फिरोजाबाद में 4, कानपुर में 3, बिजनौर में 2, संभल में 2, वाराणसी में 1, लखनऊ में 1, मुजफ्फरनगर में 1 और रामपुर में 1 की मौत हुई है।