CAA Protests: दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर विरोध प्रदर्शन, UP के 21 जिलों में इन्टरनेट सेवा बंद

CAA Protests
CAA Protests: दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर विरोध प्रदर्शन, UP के 21 जिलों में इन्टरनेट सेवा बंद

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बीते सप्ताह जुमे की नमाज के दौरान दिल्ली, यूपी समेत देश के कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। इसके बाद से लगातार सरकार द्वारा लोगों को जागरूक किया जा रहा है कि नागरिकता कानून से भारत के किसी भी निवासी को कोई नुकसान नही होगा। आज जुमे का दिन है इसलिए यूपी, दिल्ली समेत पूरे देश में अलर्ट जारी है। वहीं दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर एकबार फिर से प्रदर्शन शुरू हो गया है।

Caa Protests Protests Outside Delhis Jama Masjid Internet Service Stopped In 21 Districts Of Up :

दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ शुरू हुए विरोध प्रदर्शन में सैकड़ों की संख्या में नमाज़ी एकत्र हुए हैं। वहीं दिल्ली के जोरबाग और सीलमपुर इलाके में भी शुक्रवार को CAA के खिलाफ विरोधी मार्च निकाला गया। बताया जा रहा है कि ये मार्च जोरबाग से प्रधानमंत्री के आवास तक जाएगा। वहीं पूर्व विधायक शोएब इकबाल का कहना है कि जामा मस्जिद पर आज CAA-NRC-NPR के खिलाफ शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन होगा। यही नही उन्होने बताया कि समय रहते ही प्रदर्शन समाप्त भी कर दिया जायेगा। हालांकि मुस्लिम समुदाय द्वारा शांति मार्च निकालने की बात कही गयी लेकिन प्रशासन पूरी तरह से सख्त है और ड्रोन से निगरानी रखी जा रही है। बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारियों की मांग है कि जिन लोगों को प्रदर्शन के लिए गिरफ्तार किया गया है, उन्हे रिहा कर दिया जाये।

दूसरी तरफ जुमे की नमाज की वजह से यूपी में भी सरकार व प्रशासन मामले पर पैनी नजरे बनाये हुए है। इसी के चलते यूपी के 21 जिलों में इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है। यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा है कि प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर पूरी तरह से कंट्रोल में है, हम लगातार हर स्थिति पर नज़र बनाए हुए है। अभी तक कुल 21 जिलों में इंटरनेट को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि हम किसी निर्दोष को नहीं पकड़ रहे हैं, लेकिन जो हिंसा में शामिल होगा उसे नही छोड़ा जाएगा। आपको बता दें कि बीते शुक्रवार यूपी के कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। उत्तर प्रदेश में कई शहरों में हाई अलर्ट जारी है। बता दें कि पहले से ही यूपी में धारा 144 लगी हुई है।

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बीते सप्ताह जुमे की नमाज के दौरान दिल्ली, यूपी समेत देश के कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। इसके बाद से लगातार सरकार द्वारा लोगों को जागरूक किया जा रहा है कि नागरिकता कानून से भारत के किसी भी निवासी को कोई नुकसान नही होगा। आज जुमे का दिन है इसलिए यूपी, दिल्ली समेत पूरे देश में अलर्ट जारी है। वहीं दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर एकबार फिर से प्रदर्शन शुरू हो गया है। दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ शुरू हुए विरोध प्रदर्शन में सैकड़ों की संख्या में नमाज़ी एकत्र हुए हैं। वहीं दिल्ली के जोरबाग और सीलमपुर इलाके में भी शुक्रवार को CAA के खिलाफ विरोधी मार्च निकाला गया। बताया जा रहा है कि ये मार्च जोरबाग से प्रधानमंत्री के आवास तक जाएगा। वहीं पूर्व विधायक शोएब इकबाल का कहना है कि जामा मस्जिद पर आज CAA-NRC-NPR के खिलाफ शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन होगा। यही नही उन्होने बताया कि समय रहते ही प्रदर्शन समाप्त भी कर दिया जायेगा। हालांकि मुस्लिम समुदाय द्वारा शांति मार्च निकालने की बात कही गयी लेकिन प्रशासन पूरी तरह से सख्त है और ड्रोन से निगरानी रखी जा रही है। बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारियों की मांग है कि जिन लोगों को प्रदर्शन के लिए गिरफ्तार किया गया है, उन्हे रिहा कर दिया जाये। दूसरी तरफ जुमे की नमाज की वजह से यूपी में भी सरकार व प्रशासन मामले पर पैनी नजरे बनाये हुए है। इसी के चलते यूपी के 21 जिलों में इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है। यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा है कि प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर पूरी तरह से कंट्रोल में है, हम लगातार हर स्थिति पर नज़र बनाए हुए है। अभी तक कुल 21 जिलों में इंटरनेट को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि हम किसी निर्दोष को नहीं पकड़ रहे हैं, लेकिन जो हिंसा में शामिल होगा उसे नही छोड़ा जाएगा। आपको बता दें कि बीते शुक्रवार यूपी के कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। उत्तर प्रदेश में कई शहरों में हाई अलर्ट जारी है। बता दें कि पहले से ही यूपी में धारा 144 लगी हुई है।