सीएए हिंसा: जामिया हिंसा मामले में चार्जशीट दाखिल, शरजील को बनाया आरोपी

jamia
सीएए हिंसा: जामिया हिंसा मामले में चार्जशीट दाखिल, शरजील को बनाया आरोपी

नई दिल्ली। दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय और फ्रेंड्स कॉलोनी में सीएए के विरोध में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने अपनी चार्जशीट फाइल कर दी है। इस चार्जशीट में पुलिस ने शरजील इमाम का नाम लोगों को उकसाने के लिए दर्ज किया है।दिल्ली पुलिस ने इस चार्जशीट में किसी छात्र को आरोपी नहीं बनाया है। चार्जशीट में पुलिस ने दावा किया है कि मौके से गोलियों के खोखे भी मिले हैं।

Caa Violence Charge Sheet Filed In Jamia Violence Case Sharjeel Made Accused :

बता दें कि यह चार्जशीट पुलिस ने 13 फरवरी को ही दाखिल कर दी थी। इस चार्जशीट में पुलिस ने शरजील इमाम का नाम लोगों को उकसाने के लिए दर्ज किया है। जांच में ये भी खुलासा हुआ है कि पुलिस को हिंसा वाली जगह से .32 एमएम पिस्तौल के खोखे भी मिले हैं। इस चार्जशीट में किसी छात्र को आरोपी नहीं बनाया गया है।

चार्जशीट में पुलिस ने बताया है कि इस मामले में अब तक कुल 17 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। जिसमें से नौ लोगों को न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी और आठ लोगों को जामिया इलाके से गिरफ्तार किया गया है। सभी स्थानीय लोग हैं। हिंसा में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया(पीएफआई) की भूमिका को लेकर पुलिस जांच कर रही है।

नई दिल्ली। दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय और फ्रेंड्स कॉलोनी में सीएए के विरोध में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने अपनी चार्जशीट फाइल कर दी है। इस चार्जशीट में पुलिस ने शरजील इमाम का नाम लोगों को उकसाने के लिए दर्ज किया है।दिल्ली पुलिस ने इस चार्जशीट में किसी छात्र को आरोपी नहीं बनाया है। चार्जशीट में पुलिस ने दावा किया है कि मौके से गोलियों के खोखे भी मिले हैं। बता दें कि यह चार्जशीट पुलिस ने 13 फरवरी को ही दाखिल कर दी थी। इस चार्जशीट में पुलिस ने शरजील इमाम का नाम लोगों को उकसाने के लिए दर्ज किया है। जांच में ये भी खुलासा हुआ है कि पुलिस को हिंसा वाली जगह से .32 एमएम पिस्तौल के खोखे भी मिले हैं। इस चार्जशीट में किसी छात्र को आरोपी नहीं बनाया गया है। चार्जशीट में पुलिस ने बताया है कि इस मामले में अब तक कुल 17 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। जिसमें से नौ लोगों को न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी और आठ लोगों को जामिया इलाके से गिरफ्तार किया गया है। सभी स्थानीय लोग हैं। हिंसा में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया(पीएफआई) की भूमिका को लेकर पुलिस जांच कर रही है।