रेप पीड़िता ने दिखाई हिम्मत ​तीन दिन बाद गिरफ्तार करवाया बलात्कारी कैब ड्राइवर

बलात्कार और हत्या
नाबालिग लड़कियों से बलात्कार और हत्या की दो घटनाओं से हरियाणा हिला

Cab Driver Who Looted And Raped Female Traveler In Mumbai Arrested With Friend

मुंबई। महाराष्ट्र की मुंबई पुलिस ने एक कैब ड्राइवर और उसके दोस्त को महिला यात्री के साथ लूट और बलात्कार के मामले में पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पीड़िता का आरोप है कि उसने 18 दिसंबर को थाणे जाने के लिए कैब ली थी। कैब में उस समय ड्राइवर के साथ एक व्यक्ति और मौजूद था, जिन्होंने एक सूनसान इलाके में लेकर उसके साथ लूटपाट की और फिर बलात्कार किया। तीन दिनों तक पीड़िता दहशत में रही लेकिन आखिर में उसने इस मामले को थाणे पुलिस तक ले जाने का फैसला किया। महिला की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लेकर 26 दिसंबर तक की रिमांड पर लिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक पीड़िता ने मुंबई से थाणे जाने के लिए कैब बुक की थी। कैब में ड्राइवर के साथ एक अन्य व्यक्ति भी मौजूद था लेकिन उसे लगा कि उसे शायद शेयरिंग कैब मिली है। कुछ दूर जाने के बाद ड्राइवर ने कैब को ब्रजेश्वरी को जाने वाले सूनसान रास्ते पर मोड़ कर कुछ दूरी पर रोक दिया। ड्राइवर और उसके साथी ने मिलकर पर्स, ज्वैलरी और मोबाइल आदि कीमती सामान छीन लिया। जिसके बाद ड्राइवर ने अपने साथी की मदद से उसके साथ रेप किया।

रेप पीड़िता का कहना है कि इस घटना के बाद वह दहशत में आ गई थी। काफी सोचने के बाद उसने अपने साथ हुई घटना को लेकर पुलिस में जाने की हिम्मत जुटाई। पीड़िता शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी कैब ड्राइवर और उसके साथी को हिरासत में लेकर रिमांड पर लिया है।

इस मामले में कैब कंपनी से भी पुलिस ने संपर्क किया है। कैब कंपनी का कहना है कि आरोपी ड्राइवर सुरेश गोसावी करीब 15 दिनों से छुट्टी पर था। पीड़िता ने उसकी कैब कैसे बुक की इस बात की जानकारी कंपनी को नहीं है। इस पूरे मामले में कैब कंपनी की कोई भूमिका नहीं है।

मुंबई। महाराष्ट्र की मुंबई पुलिस ने एक कैब ड्राइवर और उसके दोस्त को महिला यात्री के साथ लूट और बलात्कार के मामले में पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पीड़िता का आरोप है कि उसने 18 दिसंबर को थाणे जाने के लिए कैब ली थी। कैब में उस समय ड्राइवर के साथ एक व्यक्ति और मौजूद था, जिन्होंने एक सूनसान इलाके में लेकर उसके साथ लूटपाट की और फिर बलात्कार किया। तीन दिनों तक पीड़िता दहशत में रही लेकिन आखिर में…