चालान के डर से कैब में कंडोम रख रहे हैं ड्राइवर, जानें- क्या है वजह

delhi t police
चालान के डर से कैब में कंडोम रख रहे हैं ड्राइवर, जानें- क्या है वजह

नई दिल्ली। न्यू मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद आजकल गाड़ी चलानेवालों में ट्रैफिक पुलिस को लेकर जबरदस्त खौफ देखा जा रहा है। लेकिन दिल्ली में आजकल कैब ड्राइवर कंडोम रखकर घूम रहे हैं। इसको लेकर कैब ड्राइवरों का कहना है कि कंडोम नहीं रखने से उनका चालान कट सकता है।

Cab Drivers Are Carrying Condoms To Avoid Challans :

हालांकि दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त ताज हसन ने ऐसे किसी भी आरोप को झूठा बताया है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मोटर यान अधिनियम में इस बात का कहीं भी उल्लेख नहीं है कि प्राथमिक चिकित्सा बक्से (फर्स्ट एड बॉक्स) में कंडोम रखना चाहिए या फिर यह आवश्यक है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि इस आधार पर कोई भी चालान नहीं काटा गया है।

वहीं दिल्ली के कुछ कैब चालकों का यह भी मानना है कि कंडोम का उपयोग गाड़ी के प्रेशर पाइप फटने के दौरान किया जा सकता है। इससे आप तेल और मोबीऑयल के रिसाव को रोक सकते हैं। इतना ही नहीं घायल होने की अवस्था में आप इसका उपयोग खून के रिसाव को रोकने के लिए भी कर सकते हैं।

नई दिल्ली। न्यू मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद आजकल गाड़ी चलानेवालों में ट्रैफिक पुलिस को लेकर जबरदस्त खौफ देखा जा रहा है। लेकिन दिल्ली में आजकल कैब ड्राइवर कंडोम रखकर घूम रहे हैं। इसको लेकर कैब ड्राइवरों का कहना है कि कंडोम नहीं रखने से उनका चालान कट सकता है। हालांकि दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त ताज हसन ने ऐसे किसी भी आरोप को झूठा बताया है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मोटर यान अधिनियम में इस बात का कहीं भी उल्लेख नहीं है कि प्राथमिक चिकित्सा बक्से (फर्स्ट एड बॉक्स) में कंडोम रखना चाहिए या फिर यह आवश्यक है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि इस आधार पर कोई भी चालान नहीं काटा गया है। वहीं दिल्ली के कुछ कैब चालकों का यह भी मानना है कि कंडोम का उपयोग गाड़ी के प्रेशर पाइप फटने के दौरान किया जा सकता है। इससे आप तेल और मोबीऑयल के रिसाव को रोक सकते हैं। इतना ही नहीं घायल होने की अवस्था में आप इसका उपयोग खून के रिसाव को रोकने के लिए भी कर सकते हैं।