‘आयुष्मान भारत’ योजना को कैबिनेट से मिली मंजूरी, 5 लाख तक का इलाज होगा मुफ्त

आयुष्मान भारत’ योजना ,
‘आयुष्मान भारत’ योजना को कैबिनेट से मिली मंजूरी, 5 लाख तक का इलाज होगा मुफ्त

Cabinet Approves Ayushman Bharat Scheme Health Insurance

नई दिल्ली। देश के 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख का मेडिकल बीमा उपलब्ध कराने वाली महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना को केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को मंजूरी दे दी। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद अब उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन स्कीम यानी आयुष्मान भारत इस साल अक्टूबर से शुरू की जा सकती है। हालांकि अभी तक इसके लिए किसी तारीख का ऐलान नहीं हुआ है।

‘आयुष्मान भारत’ पर निगरानी रखने के लिए एक अथॉरिटी बनाने का भी प्रस्ताव है। केंद्र सरकार इस स्कीम का 60 फीसदी और राज्य सरकार 40 फीसदी खर्च वहन करेगी। प्रधानमंत्री मोदी की नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन स्कीम (एनएचपीएस) अपनी राह पर निकल पड़ी है।

जानिए इस योजना से जुड़ी कुछ खास बातें

  • योजना का लक्ष्य 10.7 करोड़ परिवारों या देश की करीब 40 फीसदी आबादी को इससे जोड़ने का है।
  • ‘आयुष्मान भारत’ के तहत हर परिवार को 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा।
  • योजना से जुड़ने वाले परिवारों के सदस्यों की संख्या पर कोई रोक नहीं होगी।
  • इस योजना के तहत किस तरह के परिवारों को फायदा होगा, इसका फैसला आर्थिक आधार पर किया जाएगा।
  • योजना के दायरे में आने वाले परिवारों को सरकारी और चुने हुए प्राइवेट अस्पतालों में इलाज की सुविधा मिलेगी।
  • साथ ही देशभर में कहीं भी इलाज की सुविधा ली जा सकती है।
  • आयुष्मान भारत योजना बिल्कुल कैशलेस होगी।
  • इसमें बीमा कवर के लिए उम्र की कोई बाध्यता नहीं रहेगी।
  • आयुष्मान योजना के तहत 1.5 लाख स्वास्थ्य केंद्र बनाए जाएंगे, इसमें निजी क्षेत्र की कंपनियां भी शामिल हो सकती हैं।
  • देश में नए स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे। साथ ही डॉक्टरों की कमी को दूर करने के लिए देशभर में 24 जिला हॉस्पिटलों को अपग्रेड करते हुए मेडिकल कॉलेज में तब्दील कर दिया जाएगा। जिससे इन मेडिकल कॉलेजों में इलाज के साथ-साथ नए डॉक्टर्स भी तैयार होंगे।
  • प्रीमियम का भुगतान केंद्र और राज्य सरकार की ओर से किया जाएगा। अभी प्रस्तावित प्रीमियम 1200 रुपए तय किया गया है, लेकिन इस पर सहमति नहीं बन सकी है।

ऐसे लोगों को मिलेगा लाभ
डाटा बेस पर आधारित गरीब और कमजोर तबके के लोग ही इस लाभ का फायदा उठा सकेंगे। कच्ची दीवार और कच्ची छत के साथ एक कमरा वाले, वे परिवार जिनमें 16 से 59 वर्ष की आयु के बीच का कोई वयस्क सदस्य नहीं हो, ऐसे परिवार जिसमें दिव्यांग सदस्य हों और कोई शारीरिक रूप से सक्षम वयस्क सदस्य नहीं हो, मानवीय आकस्मिक मजदूरी से आय का बड़ा हिस्सा कमाने वाले भूमिहीन परिवार, ग्रामीण क्षेत्रों में बिना छत के रहने वाले लोग।

नई दिल्ली। देश के 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख का मेडिकल बीमा उपलब्ध कराने वाली महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना को केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को मंजूरी दे दी। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद अब उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन स्कीम यानी आयुष्मान भारत इस साल अक्टूबर से शुरू की जा सकती है। हालांकि अभी तक इसके लिए किसी तारीख का ऐलान नहीं हुआ है। ‘आयुष्मान भारत’ पर निगरानी रखने के…