पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय कैबिनेट की बैठक शुरू

modi cabinet
पीएम मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक शुरू

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल पूरा हो गया है। इसके बाद सोमवार को केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक शुरू हो गई है। सूत्रों के अनुसार बैठक में बड़ा फैसला लिया जा सकता है। सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति और आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति की भी मंत्रिमंडल के समक्ष बैठक होने की उम्मीद है।

Cabinet Meeting Started Under The Chairmanship Of Pm Modi :

सूत्रों ने कहा कि परिवर्तनकारी प्रभाव वाले ऐतिहासिक फैसलों की कैबिनेट में घोषणा होने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि शीर्ष सुरक्षा पैनल लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध पर चर्चा कर सकता है। वहीं, आर्थिक मामलों की समिति आज अनलॉक-1 के बाद आर्थिक पुनरुद्धार योजना पर चर्चा कर सकती है। इसमें मॉल, रेस्तरां और पूजा स्थलों सहित विभिन्न क्षेत्रों को फिर से खोलने पर बातचीत हो सकती है।

इससे पहले के चरण में सभी तरह की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा हुआ था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को जारी नए दिशा-निर्देशों में कहा, ‘अनलॉक-1 के वर्तमान चरण में आर्थिक गतिविधियों पर जोर रहेगा।’ पिछले सप्ताह के सकल घरेलू उत्पाद के आंकड़ों में 11 साल में विकास की सबसे धीमी गति और नवीनतम तिमाही में लॉकडाउन का बड़ा प्रभाव दिखा था।

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल पूरा हो गया है। इसके बाद सोमवार को केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक शुरू हो गई है। सूत्रों के अनुसार बैठक में बड़ा फैसला लिया जा सकता है। सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति और आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति की भी मंत्रिमंडल के समक्ष बैठक होने की उम्मीद है। सूत्रों ने कहा कि परिवर्तनकारी प्रभाव वाले ऐतिहासिक फैसलों की कैबिनेट में घोषणा होने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि शीर्ष सुरक्षा पैनल लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध पर चर्चा कर सकता है। वहीं, आर्थिक मामलों की समिति आज अनलॉक-1 के बाद आर्थिक पुनरुद्धार योजना पर चर्चा कर सकती है। इसमें मॉल, रेस्तरां और पूजा स्थलों सहित विभिन्न क्षेत्रों को फिर से खोलने पर बातचीत हो सकती है। इससे पहले के चरण में सभी तरह की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा हुआ था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को जारी नए दिशा-निर्देशों में कहा, ‘अनलॉक-1 के वर्तमान चरण में आर्थिक गतिविधियों पर जोर रहेगा।’ पिछले सप्ताह के सकल घरेलू उत्पाद के आंकड़ों में 11 साल में विकास की सबसे धीमी गति और नवीनतम तिमाही में लॉकडाउन का बड़ा प्रभाव दिखा था।