1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. ऊंटों की एंटीबॉडी से कोरोना को दे सकते हैं मात, रिसर्च में आया ये तथ्य सामने

ऊंटों की एंटीबॉडी से कोरोना को दे सकते हैं मात, रिसर्च में आया ये तथ्य सामने

कोरोना को मात देने के लिए वैज्ञानिक कारगर दवा बनाने में जुटे हुए हैं। इस बीच रिसर्च भी जारी है। ताजा एक अध्यन में सामने आया है कि ऊंटों की एंटीबॉडी से कोरोना का उपचार संभव है। डॉक्टरों का कहना है कि रिसर्च सही दिशा में है। यूएई के एक जाने माने माइक्रोबायोलॉजिस्ट डॉक्टर का दावा है कि ऊंटों में कोरोना वायरस को मात देने का माद्दा है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Camels Antibodies Can Be Outperformed By Corona Research Reveals This Fact

नई दिल्ली। कोरोना को मात देने के लिए वैज्ञानिक कारगर दवा बनाने में जुटे हुए हैं। इस बीच रिसर्च भी जारी है। ताजा एक अध्यन में सामने आया है कि ऊंटों की एंटीबॉडी से कोरोना का उपचार संभव है। डॉक्टरों का कहना है कि रिसर्च सही दिशा में है। यूएई के एक जाने माने माइक्रोबायोलॉजिस्ट डॉक्टर का दावा है कि ऊंटों में कोरोना वायरस को मात देने का माद्दा है।

पढ़ें :- Unlock 2.0 Bihar: अब शाम 6 बजे तक खुलेंगी दुकानें, नियमों में हुए और बदलाव

ऊंटों के जरिए कोरोना मरीजों को ठीक किया जा सकता है। यूएई की मीडिया रिपोर्ट में डॉक्टर ने कहा कि ऊंट पर कोरोना का कोई असर नहीं होता। हालांकि इंसान और दूसरे जानवरों में रिसेप्टर सेल होता है। रिसेप्टर सेल की वजह से ही इंसानों में कोरोना संक्रमण फैल रहा है।

उन्होंने कहा कि ऊंट की म्यूकोसा सेल में वायरस चिपक नहीं सकता। इसलिए कोरोना के लिए ऊंट एक कारगर इलाज साबित हो सकता है। बता दें कि, कोरोना को मात देने के लिए यूएई में कूबड़दार ऊंटों पर सिसर्च किया जा रहा है।

इसके लिए ऊंटों में कोरोना के मृत सैंपल का इंजेक्शन दिया जा रहा है। बहुत बारीकी से यह देखा जा रहा है कि इससे उनके अंदर क्या बदलाव आ रहा है। साथ ही एंटीबॉडी के लिए उनका ब्लड सैंपल लिया जा रहा है। उसकी जांच की जा रही है ताकि कोरोना महामारी का कोई ठोस इलाज मिल सके।

पढ़ें :- देश में कोरोना संक्रमण तेजी से हो रहा कम: 24 घंटे में आए 60 हजार 471 केस, 2726 मरीजों की मौत

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X