आगामी 20 वर्ष में भारत में दोगुने होंगे Cancer के मरीज, इन आठ राज्यों में सबसे ज्यादा खतरा

आगामी 20 वर्ष में भारत में दोगुने होंगे Cancer के मरीज
आगामी 20 वर्ष में भारत में दोगुने होंगे Cancer के मरीज

नई दिल्ली। इस आधुनिक समय में भारत समेत दुनिया के तमात देशों में कैंसर की समस्या तेजी से बढ़ रही है। वहीं परेशानी वाली बात यह है कि भारत में यह कुछ ज्यादा ही खतरनाक रूप अख्तियार कर रहा है। दरअसल भारत में कैंसर की स्थिति को लेकर हुए ताजा शोध में पता चला है कि यहां प्रत्येक 20 वर्ष में इस जानलेवा बीमारी से पीड़ित मरीजों की संख्या दोगुनी हो रही है। कैंसर का सबसे ज्यादा खतरा, सबसे ज्यादा आबादी वाले आठ राज्यों में है।

Cancer Patients Fastly Increasing In India :

बता दें कि जर्नल ऑफ ग्लोबल ऑन्कोलॉजी (Journal of Global Oncology) में इसी माह प्रकाशित इस अध्ययन में पता चला है कि भारतीय आर्युवेदों और पांडुलिपियों में भी कैंसर जैसी बीमारियों और उपचार का उल्लेख मिलता है। मतलब कैंसर सदियों पुरानी बीमारी है। अर्थवेद समेत कई भारतीय ग्रंथों में भी इसी तरह की बीमारी का जिक्र करते हुए बचाव के लक्षण भी बताए गए हैं।

भारत के इन आठ राज्यों में कैंसर का सबसे ज्यादा खतरा

शोध में यह सामने आया है कि भारत में प्रत्येक 20 वर्ष में कैंसर के मामले दोगुने हो रहे हैं। कैंसर का सबसे ज्यादा खतरा उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा और राजस्थान राज्य में है। इसकी वजह ये है कि ये राज्य महामारी के संक्रमण काल से गुजर रहे हैं।

जाने कैंसर के प्रमुख प्रकार के बारे में

लीवर कैंसर- इसकी प्रमुख वजह शराब का सेवन करना है। कई बार कैंसर शरीर के किसी और हिस्से से शुरू होकर लीवर तक पहुंच जाता है।
प्रोस्टेट कैंसर- प्रोस्टेट कैंसर का पता शुरुआती दौर में नहीं चलता और न ही शुरुआती दौर में इसके कोई लक्ष्ण होते हैं। जब तक इसका पता चलता है, ये लाइलाज हो चुका होता है।
कोलन कैंसर- इसे आंत का कैंसर भी कहते हैं। ये ज्यादातर 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों में होता है। इसमें आतों में असामान्य रूप से गांठें बनने लगती हैं।
ब्रेन ट्यूमर- इसमें दिमाग की कोशिकाएं असामान्य रूप से बढ़ने लगती हैं।
ब्लड कैंसर- खून में होने वाला ये कैंसर बहुत खतरनाक माना जाता है।
फेफड़ों का कैंसर- धूम्रपान और प्रदूषित हवा के कारण होने वाला ये सबसे आम कैंसर है। बच्चों में इसका खतरा सबसे ज्यादा होता है।
पैंक्रियास का कैंसर- पेट के पीछे मौजूद पाचक ग्रंथि, जिसे अग्नाशय भी कहते हैं। ये हमारी पूरी पाचन प्रक्रिया को संतुलित करती है।
ब्रेस्ट कैंसर- महिलाओं को स्तन कैंसर का खतरा सबसे ज्यादा होता है। बढ़ती उम्र के साथ ये खतरा और बढ़ता जाता है।

नई दिल्ली। इस आधुनिक समय में भारत समेत दुनिया के तमात देशों में कैंसर की समस्या तेजी से बढ़ रही है। वहीं परेशानी वाली बात यह है कि भारत में यह कुछ ज्यादा ही खतरनाक रूप अख्तियार कर रहा है। दरअसल भारत में कैंसर की स्थिति को लेकर हुए ताजा शोध में पता चला है कि यहां प्रत्येक 20 वर्ष में इस जानलेवा बीमारी से पीड़ित मरीजों की संख्या दोगुनी हो रही है। कैंसर का सबसे ज्यादा खतरा, सबसे ज्यादा आबादी वाले आठ राज्यों में है। बता दें कि जर्नल ऑफ ग्लोबल ऑन्कोलॉजी (Journal of Global Oncology) में इसी माह प्रकाशित इस अध्ययन में पता चला है कि भारतीय आर्युवेदों और पांडुलिपियों में भी कैंसर जैसी बीमारियों और उपचार का उल्लेख मिलता है। मतलब कैंसर सदियों पुरानी बीमारी है। अर्थवेद समेत कई भारतीय ग्रंथों में भी इसी तरह की बीमारी का जिक्र करते हुए बचाव के लक्षण भी बताए गए हैं। भारत के इन आठ राज्यों में कैंसर का सबसे ज्यादा खतरा शोध में यह सामने आया है कि भारत में प्रत्येक 20 वर्ष में कैंसर के मामले दोगुने हो रहे हैं। कैंसर का सबसे ज्यादा खतरा उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा और राजस्थान राज्य में है। इसकी वजह ये है कि ये राज्य महामारी के संक्रमण काल से गुजर रहे हैं। जाने कैंसर के प्रमुख प्रकार के बारे में लीवर कैंसर- इसकी प्रमुख वजह शराब का सेवन करना है। कई बार कैंसर शरीर के किसी और हिस्से से शुरू होकर लीवर तक पहुंच जाता है। प्रोस्टेट कैंसर- प्रोस्टेट कैंसर का पता शुरुआती दौर में नहीं चलता और न ही शुरुआती दौर में इसके कोई लक्ष्ण होते हैं। जब तक इसका पता चलता है, ये लाइलाज हो चुका होता है। कोलन कैंसर- इसे आंत का कैंसर भी कहते हैं। ये ज्यादातर 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों में होता है। इसमें आतों में असामान्य रूप से गांठें बनने लगती हैं। ब्रेन ट्यूमर- इसमें दिमाग की कोशिकाएं असामान्य रूप से बढ़ने लगती हैं। ब्लड कैंसर- खून में होने वाला ये कैंसर बहुत खतरनाक माना जाता है। फेफड़ों का कैंसर- धूम्रपान और प्रदूषित हवा के कारण होने वाला ये सबसे आम कैंसर है। बच्चों में इसका खतरा सबसे ज्यादा होता है। पैंक्रियास का कैंसर- पेट के पीछे मौजूद पाचक ग्रंथि, जिसे अग्नाशय भी कहते हैं। ये हमारी पूरी पाचन प्रक्रिया को संतुलित करती है। ब्रेस्ट कैंसर- महिलाओं को स्तन कैंसर का खतरा सबसे ज्यादा होता है। बढ़ती उम्र के साथ ये खतरा और बढ़ता जाता है।