1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. पूंजीपतियों को 6 फीसदी ब्याज पर लोन और अन्नदाताओं को 24 फीसदी पर मिलता है कर्ज, हम ‘दो भारत’ नहीं करेंगे स्वीकार : राहुल गांधी

पूंजीपतियों को 6 फीसदी ब्याज पर लोन और अन्नदाताओं को 24 फीसदी पर मिलता है कर्ज, हम ‘दो भारत’ नहीं करेंगे स्वीकार : राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट कर कहा कि कल मैं एक महिला से मिला, उनके किसान पति ने 50,000 रुपए के कर्ज के कारण आत्महत्या कर ली है। एक भारत- पूंजीपति मित्रों को 6 फीसदी ब्याज पर कर्ज और करोड़ों की कर्जमाफी। दूसरा भारत- अन्नदाताओं को 24 फीसदी ब्याज पर कर्ज और कष्टों से भरी जिंदगी। उन्होंने कहा कि एक देश में ये दो भारत, हम स्वीकार नहीं करेंगे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट कर कहा कि कल मैं एक महिला से मिला, उनके किसान पति ने 50,000 रुपए के कर्ज के कारण आत्महत्या कर ली है। एक भारत- पूंजीपति मित्रों को 6 फीसदी ब्याज पर कर्ज और करोड़ों की कर्जमाफी। दूसरा भारत- अन्नदाताओं को 24 फीसदी ब्याज पर कर्ज और कष्टों से भरी जिंदगी। उन्होंने कहा कि एक देश में ये दो भारत, हम स्वीकार नहीं करेंगे।

पढ़ें :- Bharat Jodo Yatra : राहुल गांधी वो अंदाज दिखा जो हर किसी का ध्यान अपनी तरफ खींच लिया, देखें उनका सोशल मीडिया पोस्ट

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का एक वायरल वीडियो सामने आया है, जिसमें पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया का हाथ पकड़कर उन्हें अपने साथ दौड़ाते हुए देखा जा सकता है। वीडियो में पूर्व मुख्यमंत्री को शुरू में मार्च के दौरान राहुल गांधी के ठीक बगल में चलते हुए देखा जा सकता है। वे अन्य कांग्रेस नेताओं और सुरक्षाकर्मियों के साथ थे।  फिर अचानक सभी को आश्चर्यचकित करते हुए राहुल गांधी ने सिद्धारमैया का बायां हाथ पकड़ लिया और दौड़ना शुरू कर दिया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता को भी राहुल गांधी के रुकने तक उनके साथ तालमेल बिठाते हुए देखा जा सकता है।

भारत जोड़ो यात्रा 21 अक्टूबर तक राज्य में जारी रहेगी। जैसे ही मार्च ने कर्नाटक में प्रवेश किया राहुल गांधी ने सुनिश्चित किया कि कर्नाटक कांग्रेस के दोनों दिग्गज सिद्धारमैया और पूर्व कैबिनेट मंत्री डीके शिवकुमार को समान महत्व दिया जाए। दो प्रतिद्वंद्वी नेताओं के बीच संबंधों को मजबूत करने और पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच एकता का एक मजबूत संदेश देने के लिए उन्होंने स्पष्ट प्रयास किए। राहुल गांधी ने सिद्धारमैया और शिवकुमार दोनों का हाथ उठाया और उन्हें एक साथ ढोल बजाने के लिए कहा।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...