काबुल में देर रात जोरदार धमाका, 16 की मौत 100 घायल

AFGHANISTAN-UNREST-ATTACK
Afghan security forces personnel are seen at the site of a car bomb attack in Kabul on May 31, 2017. At least 40 people were killed or wounded on May 31 as a massive blast ripped through Kabul's diplomatic quarter, shattering the morning rush hour and bringing carnage to the streets of the Afghan capital. / AFP PHOTO / SHAH MARAI (Photo credit should read SHAH MARAI/AFP/Getty Images)

काबुल। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में सोमवार देर रात छोटे हथियारों से गोलीबारी की आवाजों के बाद जोरदार धमाका हुआ। धमाके में अब तक 16 लोगों की मौत हुई है जबकि 100 से अधिक लोग घायल हैं।यह हमला ऐसे स्थान पर हुआ हैए जहां कई अंतरराष्ट्रीय संगठनों के कार्यालय हैं।

Car Bomb Attack In Kabul :

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नसरत रहीमी के मुताबिक यह धमाका ग्रीन विलेज के करीब हुआ। यह एक बड़ा परिसर है जहां राहत सहायता एजेंसियों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के कार्यालय बने हैं। फिलहाल किसी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

काबुल पुलिस के प्रवक्ता फिरदौस फारामेर्ज ने कहा कि धमाका कार बम का प्रतीत होता है। हालांकि कुछ अपुष्ट खबरों में कहा गया है कि यह एक बड़ा ट्रक बम था। उन्होंने कहा पुलिस को घटनास्थल पर तैनात किया गया है हम और सूचना मिलने का इंतजार कर रहे हैं।

हमले से कुछ समय पहले ही अफगानिस्तान के मुख्य टीवी चैनल‘ टोलो न्यूज ने अमेरिकी दूत ज़लमय खलीलजाद के साथ एक साक्षात्कार प्रसारित किया था जिसमें वह इस्लामी चरमपंथी संगठन तालिबान के साथ एक संभावित समझौते पर चर्चा कर रहे थे। इसमें उन्होंने कहा कि अगर समझौते को आगे बढ़ाने पर सहमति बनती है तो हम अफगानिस्तान के पांच सैन्य ठिकानों से 135 दिनों के भीतर अपने सैनिकों की वापसी शुरू कर देंगे।

काबुल। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में सोमवार देर रात छोटे हथियारों से गोलीबारी की आवाजों के बाद जोरदार धमाका हुआ। धमाके में अब तक 16 लोगों की मौत हुई है जबकि 100 से अधिक लोग घायल हैं।यह हमला ऐसे स्थान पर हुआ हैए जहां कई अंतरराष्ट्रीय संगठनों के कार्यालय हैं। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नसरत रहीमी के मुताबिक यह धमाका ग्रीन विलेज के करीब हुआ। यह एक बड़ा परिसर है जहां राहत सहायता एजेंसियों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के कार्यालय बने हैं। फिलहाल किसी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। काबुल पुलिस के प्रवक्ता फिरदौस फारामेर्ज ने कहा कि धमाका कार बम का प्रतीत होता है। हालांकि कुछ अपुष्ट खबरों में कहा गया है कि यह एक बड़ा ट्रक बम था। उन्होंने कहा पुलिस को घटनास्थल पर तैनात किया गया है हम और सूचना मिलने का इंतजार कर रहे हैं। हमले से कुछ समय पहले ही अफगानिस्तान के मुख्य टीवी चैनल‘ टोलो न्यूज ने अमेरिकी दूत ज़लमय खलीलजाद के साथ एक साक्षात्कार प्रसारित किया था जिसमें वह इस्लामी चरमपंथी संगठन तालिबान के साथ एक संभावित समझौते पर चर्चा कर रहे थे। इसमें उन्होंने कहा कि अगर समझौते को आगे बढ़ाने पर सहमति बनती है तो हम अफगानिस्तान के पांच सैन्य ठिकानों से 135 दिनों के भीतर अपने सैनिकों की वापसी शुरू कर देंगे।