कैशलेस हुआ IPL का सट्टाबाजार, Paytm से हो रहा लेनदेन

लखनऊ। नोटबंदी के बाद जिस तरह से कैशलेस और डिजिटल पेमेन्ट के विकल्प सामने आए उनमें सबसे चर्चित विकल्प रहा पेटीएम(Paytm)। यही पेटीएम इन दिनों आईपीएल(IPL) सट्टाबाजार की रीढ़ बना हुआ है। 500, 1000 से लेकर 5000 तक की बाजी खेलने वालों के लिए पेटीएम से भुगतान करने का विकल्प मौजूद है।




सूत्रों की माने तो बड़े स्तर के सट्टा खिलाड़ियों के नीचे दूसरे और छोटे स्तर के सट्टेबाज अपना करोबार चलाते हैं। अब तक इस धंधे में सबसे बड़ी किल्लत छोटी छोटी रकमों के मारे जाने की थी। कई बार सट्टा खेलने वाला पैसे मार लेता तो कई बार सट्टा लगवाने वाला। मगर पेटीएम के आने से छोटे स्तर पर होने वाले सट्टे का बाजार बड़ा हो गया है।




पिछले आईपीएल तक एक मैच पर 2 से 4 छोटे खिलाड़ियों का मिलना बड़ी बात होती थी। लेकिन इस आईपीएल सट्टा बाजार कैशलेस हो चला है। जिसमें न किसी की गारंटी और न ही उधारी। जितने का दांव लगाना है उतने का पेटीएम करो।