1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Caste Census से विकास योजनाओं को प्रभावी ढंग से तैयार करने में मदद मिलेगी : CM Nitish Kumar

Caste Census से विकास योजनाओं को प्रभावी ढंग से तैयार करने में मदद मिलेगी : CM Nitish Kumar

जातिगत जनगणना (Caste Census) को लेकर सोमवार को बिहार के करीब एक दर्जन नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) से मुलाकात की है। इस दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, नेता विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव समेत अन्य नेताओं ने इस मुलाकात के बाद मीडिया से बात की है।सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने पत्रकारों को प्रधानमंत्री से हुई मुलाकात का ब्‍योरा देते हुए कहा कि प्रतिनिधिमंडल ने जातीय जनगणना (Caste Census) के सभी पहलुओं को लेकर पीएम मोदी (PM Modi) के सामने विस्‍तार से अपना पक्ष रखा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। जातिगत जनगणना (Caste Census) को लेकर सोमवार को बिहार के करीब एक दर्जन नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) से मुलाकात की है। इस दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, नेता विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव समेत अन्य नेताओं ने इस मुलाकात के बाद मीडिया से बात की है।

पढ़ें :- BJP के चुनावी स्वार्थ की OBC राजनीति का पर्दाफाश, इनकी कथनी व करनी में अंतर : मायावती

सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने पत्रकारों को प्रधानमंत्री से हुई मुलाकात का ब्‍योरा देते हुए कहा कि प्रतिनिधिमंडल ने जातीय जनगणना (Caste Census) के सभी पहलुओं को लेकर पीएम मोदी (PM Modi) के सामने विस्‍तार से अपना पक्ष रखा है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने सबकी बातों को बड़े गौर से सुना है। उन्‍होंने जातीय जनगणना की मांग से इनकार नहीं किया है। नीतीश ने कहा कि हमें उम्‍मीद है कि वह इस बारे में विचार करके उचित निर्णय लेंगे। उन्‍होंने कहा कि नेताओं ने प्रधानमंत्री को जातिगत जनगणना (Caste Census)  के बारे में अब तक बिहार में हुई कोशिशों की पूरी जानकारी दी। उन्‍हें बताया कि कैसे 2019 और 2020 में प्रस्‍ताव पास किया गया?

इसी बीच में केंद्र के एक मंत्री के यह कहने से कि जातिगत जनगणना नहीं हो पाएगी, पूरे राज्‍य में बेचैनी फैल गई। उन्‍होंने कहा कि इसी स्थिति के चलते पीएम से आज मुलाकात की गई। उन्‍हें ओबीसी, अल्पसंख्यक समेत सभी के बारे में जानकारी दी गई। सीएम नीतीश ने कहा कि जातिगत जनगणना बेहद जरूरी है। यह एक बार हो जाएगा सब की स्थिति स्‍पष्‍ट हो जाएगी। जिन वर्गों को सरकारी योजनाओं का उचित लाभ नहीं मिल पा रहा है उनके बारे में भी ठीक ढंग से योजनाएं बन पाएंगी। विकास के लिए ठीक से काम होगा। सीएम नीतीश (CM Nitish ) ने कहा कि जातिगत जनगणना (Caste Census) के बाद देश की योजनाओं को प्रभावी रूप( Effectively) से तैयार करने में मदद मिलेगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...