यूपी के कन्नौज से चाइल्ड पोर्नोग्राफी ग्रुप संचालक अरेस्ट, सीबीआई ने किया रैकेट का भंडाफोड़

यूपी के कन्नौज से चाइल्ड पोर्नोग्राफी ग्रुप संचालक अरेस्ट, सीबीआई ने किया रैकेट का भंडाफोड़
यूपी के कन्नौज से चाइल्ड पोर्नोग्राफी ग्रुप संचालक अरेस्ट, सीबीआई ने किया रैकेट का भंडाफोड़

नई दिल्ली। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को व्हाट्सएप ग्रुप पर बच्चों से संबंधित अश्लील वीडियो प्रसारित करने वाले अंतरराष्ट्रीय रैकेट का भंडाफोड़ किया है। इस ग्रुप को उत्तर प्रदेश के कन्नौज से संचालित किया जा रहा था। सीबीआई ने ग्रुप एडमिन को कन्नौज से गिरफ्तार किया है। इस ग्रुप में कई देशों के लोग जुड़े हुए थे। 199 सदस्यों वाले KidsXXX नाम के इस ग्रुप में बच्चो से जुड़े पोर्न वीडियो और फोटो शेयर किए जाते थे।

अधिकारियों ने बताया कि सूचना प्रौद्योगिकी कानून के उल्लंघन का मामला दर्ज करने के बाद सीबीआई ने दिल्ली, मुंबई, नोएडा और कन्नौज में पांच ठिकानों पर छापेमारी की है। इस संबंध में निखिल वर्मा नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया गया है जो एक आभूषण विक्रेता के यहां काम करने वाले एक कर्मचारी का बेटा है।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड परीक्षा निरस्त, जानें लेटर का वायरल सच }

सदर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक एके सिंह ने बताया कि आरोपी को दिल्ली सीबीआइ कोर्ट में पेश कर उसे रिमांड पर लिया जायेगा। इसके साथ उसके गैंग में शामिल सभी 129 सदस्यों का पता लगाकर गिरफ्तार किया जाएगा।

बताते चलें कि चाइल्ड पोर्नोग्राफी पर केंद्र सरकार ने पिछले साल सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि 3522 चाइल्ड पोर्नोग्राफी वेबसाइटों को ब्लॉक कर दिया गया है। साथ ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड(सीबीएसई) को स्कूलों में पोर्नोग्राफी वेबसाइट को ब्लॉक करने के लिए जैमर लगाने पर विचार करने के लिए कहा गया है।

{ यह भी पढ़ें:- आगरा में प्रसूता ने अस्पताल परिसर में जना बच्चा, वीडियो वॉयरल }

नई दिल्ली। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को व्हाट्सएप ग्रुप पर बच्चों से संबंधित अश्लील वीडियो प्रसारित करने वाले अंतरराष्ट्रीय रैकेट का भंडाफोड़ किया है। इस ग्रुप को उत्तर प्रदेश के कन्नौज से संचालित किया जा रहा था। सीबीआई ने ग्रुप एडमिन को कन्नौज से गिरफ्तार किया है। इस ग्रुप में कई देशों के लोग जुड़े हुए थे। 199 सदस्यों वाले KidsXXX नाम के इस ग्रुप में बच्चो से जुड़े पोर्न वीडियो और फोटो शेयर किए जाते थे। अधिकारियों…
Loading...