उन्नाव दुष्कर्म : आरोपी चालक और क्लीनर का होगा नार्को टेस्ट, सीबीआई कोर्ट ने दी अनुमति

unnao
उन्नाव दुष्कर्म : आरोपी चालक और क्लीनर का होगा नार्को टेस्ट, सीबीआई कोर्ट ने दी अनुमति

नई दिल्ली। उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के एक्सीडेंट मामले में सीबीआई कड़ी से कड़ी जोड़कर पूरे घटना की जांच करने में जुटी है। दुर्घटना मामले में सीबीआई आरोपी ट्रक चालक व क्लीनर का नार्को, ब्रेन मैपिंग और ब्रेन फिंगर प्रिंट टेस्ट कराने की तैयारी में है।विवेचनाधिकारी की अपील पर सीबीआई कोर्ट के प्रभारी न्यायिक मजिस्ट्रेट सुब्रत पाठक ने इसकी अनुमति दे दी।

Cbi Court Allows Narco Test For Accused Driver And Cleaner :

कोर्ट में अपील दाखिल करते हुए विवेचनाधिकारी सीबीआई के डिप्टी एसपी राम सिंह ने बताया कि इन टेस्ट के लिए ट्रक चालक आशीष पाल और क्लीनर मोहन श्रीवास ने बयान दर्ज कराकर सहमति दे दी है। दोनों आरोपियों की कोर्ट में इसके लिए सहमति दर्ज कराए जाने के बाद कोर्ट ने सीबीआई को उक्त जांच कराने की अनुमति दी है।

इसके साथ ही कोर्ट ने सीबीआई की अपील पर आरोपियों की न्यायिक अभिरक्षा 14 अगस्त तक बढ़ाए जाने के भी आदेश दिए हैं। बता दें कि, रायबरेली में हुए उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के साथ घटना की जांच कर रही सीबीआई ने दुर्घटना करने वाले आरोपी ट्रक चालक और क्लीनर का बुधवार को पॉलीग्राफ टेस्ट कराया था।

सीबीआई अब जरूरी औपचारिकता पूरी कर दोनों आरोपियों को इन टेस्ट के लिए ले जाएगी। गौरतलब है कि, उन्नाव रेप पीड़िता और उसके वकील की अभी भी हालत गंभीर बनी हुई। उनका उपचार दिल्ली एम्स में चल रहा है।

नई दिल्ली। उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के एक्सीडेंट मामले में सीबीआई कड़ी से कड़ी जोड़कर पूरे घटना की जांच करने में जुटी है। दुर्घटना मामले में सीबीआई आरोपी ट्रक चालक व क्लीनर का नार्को, ब्रेन मैपिंग और ब्रेन फिंगर प्रिंट टेस्ट कराने की तैयारी में है।विवेचनाधिकारी की अपील पर सीबीआई कोर्ट के प्रभारी न्यायिक मजिस्ट्रेट सुब्रत पाठक ने इसकी अनुमति दे दी। कोर्ट में अपील दाखिल करते हुए विवेचनाधिकारी सीबीआई के डिप्टी एसपी राम सिंह ने बताया कि इन टेस्ट के लिए ट्रक चालक आशीष पाल और क्लीनर मोहन श्रीवास ने बयान दर्ज कराकर सहमति दे दी है। दोनों आरोपियों की कोर्ट में इसके लिए सहमति दर्ज कराए जाने के बाद कोर्ट ने सीबीआई को उक्त जांच कराने की अनुमति दी है। इसके साथ ही कोर्ट ने सीबीआई की अपील पर आरोपियों की न्यायिक अभिरक्षा 14 अगस्त तक बढ़ाए जाने के भी आदेश दिए हैं। बता दें कि, रायबरेली में हुए उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के साथ घटना की जांच कर रही सीबीआई ने दुर्घटना करने वाले आरोपी ट्रक चालक और क्लीनर का बुधवार को पॉलीग्राफ टेस्ट कराया था। सीबीआई अब जरूरी औपचारिकता पूरी कर दोनों आरोपियों को इन टेस्ट के लिए ले जाएगी। गौरतलब है कि, उन्नाव रेप पीड़िता और उसके वकील की अभी भी हालत गंभीर बनी हुई। उनका उपचार दिल्ली एम्स में चल रहा है।