1. हिन्दी समाचार
  2. सीबीआई छापेमारी : इन दो नेताओं के घर पर भी पहुंची टीम, शाम को अधिकारी करेंगे बैठक

सीबीआई छापेमारी : इन दो नेताओं के घर पर भी पहुंची टीम, शाम को अधिकारी करेंगे बैठक

Cbi Raid Also At Sp And Bsp Leaders Home Involved In Mining In Hamirpur

By आशीष यादव 
Updated Date

लखनऊ। हमीरपुर में मौरंग खनन में बरती गई अनियमितता को लेकर शनिवार को 2008 बैच की आईएएस अधिकारी बी.चंद्रकला के ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की। टीम ने उनके आवास से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज जब्त किए हैं। बता दें कि सीबीआई की टीम इस मामले में दिल्ली, लखनऊ, कानपुर, जालौन, समेत एक दर्जन जगहों पर यह छापेमारी की जा रही है।

पढ़ें :- 21 हजार से कम सैलरी पाने वालों के लिए खुशखबरी! अप्रैल से देशभर में मिलेंगी ये सुविधाएं

बता दें कि सीबीआई की एक टीम हमीरपुर में भी छापेमारी कर रही है। टीम ने यहां मौरंग का कारोबार करने वाले रमेश मिश्रा और सत्यदेव दीक्षित के घरों पर छापेमारी की है। बता दें कि रमेश मिश्रा समाजवादी पार्टी के एमएलसी हैं जबकि सत्यदेव दीक्षित बीएसपी के वरिष्ठ नेता हैं। इसके अलावा पूर्व आईएएस संध्या तिवारी के घर एवं आईएएस भवनाथ सिंह के घर भी सीबीआई की टीम ने छापेमारी की है। दोनों ही अधिकारी हमीरपुर के जिलाधिकारी रह चुके है।

बताया जा रहा है कि वर्ष 2015 में अवैध रूप से जारी मौरंग खनन को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी। जिसके बाद कोर्ट ने 16 अक्टूबर, 2015 को हमीरपुर में जारी किए गए सभी 60 मौरंग खनन के पट्टे अवैध घोषित करते हुए रद्द कर दिए थे। जिसके बाद भी वहां अवैध मौरंग खनन होता रहा।

इस मामले में सीबीआई मुख्यालय पर वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक बुलाई गई है। सूत्रों का कहना है कि शाम चार बजे कई बड़े नेताओं के बारे में बड़े खुलासे हो सकते है। वहीं छापेमारी के दौरान सीबीआई को समाजवादी पार्टी के नेता के बारे में अहम सुराग मिले हैं। जिसका खुलासा बैठक में किया जाएगा।

इन लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ मामला

1 बी .चन्द्रकला , IAS
2.आदिल खान – एक माइनिंग का लीज होल्डर
3 मोइनुद्दीन- जियोलॉजिस्ट  इनके लखनऊ वाले आवास से 12 लाख रुपये और 1.8 किलो गोल्ड मिला है।
4 .रमेश कुमार मिश्रा – MLC
5 . दिनेश कुमार मिश्रा -ये रमेश के भाई हैं  , इन दोनों के यहां भी छापेमारी हुई है।
6 . रामाश्रय प्रजापति -माइनिंग क्लर्क
7. अम्बिका तिवारी  -ये हमीरपुर के रहने वाली है और दिनेश /रमेश मिश्रा के जानकर भी हैं।
8. संजय दीक्षित – बीएसपी से चुनाव लड़ चुके हैं,इनके पिता सत्यदेव दीक्षित के यहां भी छापेमारी हुई है।
9. रामावतार सिंह – ये सीनियर क्लर्क के तौर पर सेवानिवृत्त हुए थे,जो जालौन के रहने वाले हैं। इसके घर में दो करोड़ नकदी और दो किलो सोना मिला है।
10. करण सिंह – इसके यहां भी छापेमारी हुई है, इसका संबंध रामावतार सिंह से है

पढ़ें :- कोरोना महामारी से जूझती दुनिया का सहारा बना भारत, 150 देशों को भेजी कोविड वैक्सीन की खेप

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...