जमीन आवंटन घोटाले में भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के घर सीबीआई की छापेमारी

bhupendra singh hudda
जमीन आवंटन घोटाले में भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के घर सीबीआई की छापेमारी

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा जमीन आवंटन मामले में फंसते जा रहे है। इस मामले में शुक्रवार को उनके रोहतक स्थित आवास पर सीबीआई ने छापेमारी ने छापेमारी की। जिस समय ये छापेमारी हुई उस दौरान भूपेंद्र सिंह हुड्डा घर में ही मौजूद थे। फिलहाल दर्जन भर से ज्यादा सीबीआई के अधिकारी उनके घर पर छापेमारी कर रहे है।

Cbi Raid On Ex Haryana Cm Bhupendra Singh Huddas Home :

बता दें कि सीबीआई ने भूपेंद्र सिंह हुड्डा और अन्य के खिलाफ 2004 से 2007 हुए जमीन आवंटन के मामले में केस दर्ज किया है। हुड्डा के घर समेत हरियाणा में 30 से ज्यादा जगहों पर छापेमारी की जा रही है। इससे पहले भी भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर कई मामलों में शिकंजा कसा जा चुका है। हरियाणा के पंचकूला में प्लॉट आवंटन मामले में बीते दिनों ही सीबीआई को चार्जशीट दाखिल करने की मंजूरी मिली थी। उनपर चार्जशीट दाखिल करने के लिए राज्यपाल की अनुमति मिलनी जरूरी थी,जिसके चलते इसमे काफी देर लगी है।

हुड्डा पर उनके राज में नेशनल हेराल्ड की सहयोगी कंपनी एजेएल को प्लॉट आवंटन करने का आरोप था। जिस पर सीबीआई ने केस दर्ज किया था। पंचकूला मामले के अलावा भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर गुड़गांव में जमीन आवंटन से जुड़ा एक मामला भी चल रहा है, जिसमें चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है।

बता दें कि मुख्यमंत्री रहने के दौरान हुड्डा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष थे, तभी भूखंड फिर से एजेएल को आवंटित किया गया था। हुड्डा व AJL पदाधिकारियों पर वर्ष 2005 में अवैध तरीके से भूखंड को फिर से आवंटित करने का आरोप है। पंचकूला के सेक्टर 6 में भूखंड संख्या सी-17 को 29 जून, 2005 को एजेएल को फिर से आवंटित किया गया था। यह भूमि करीब 3,360 वर्गमीटर थी।

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा जमीन आवंटन मामले में फंसते जा रहे है। इस मामले में शुक्रवार को उनके रोहतक स्थित आवास पर सीबीआई ने छापेमारी ने छापेमारी की। जिस समय ये छापेमारी हुई उस दौरान भूपेंद्र सिंह हुड्डा घर में ही मौजूद थे। फिलहाल दर्जन भर से ज्यादा सीबीआई के अधिकारी उनके घर पर छापेमारी कर रहे है। बता दें कि सीबीआई ने भूपेंद्र सिंह हुड्डा और अन्य के खिलाफ 2004 से 2007 हुए जमीन आवंटन के मामले में केस दर्ज किया है। हुड्डा के घर समेत हरियाणा में 30 से ज्यादा जगहों पर छापेमारी की जा रही है। इससे पहले भी भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर कई मामलों में शिकंजा कसा जा चुका है। हरियाणा के पंचकूला में प्लॉट आवंटन मामले में बीते दिनों ही सीबीआई को चार्जशीट दाखिल करने की मंजूरी मिली थी। उनपर चार्जशीट दाखिल करने के लिए राज्यपाल की अनुमति मिलनी जरूरी थी,जिसके चलते इसमे काफी देर लगी है। हुड्डा पर उनके राज में नेशनल हेराल्ड की सहयोगी कंपनी एजेएल को प्लॉट आवंटन करने का आरोप था। जिस पर सीबीआई ने केस दर्ज किया था। पंचकूला मामले के अलावा भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर गुड़गांव में जमीन आवंटन से जुड़ा एक मामला भी चल रहा है, जिसमें चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है। बता दें कि मुख्यमंत्री रहने के दौरान हुड्डा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष थे, तभी भूखंड फिर से एजेएल को आवंटित किया गया था। हुड्डा व AJL पदाधिकारियों पर वर्ष 2005 में अवैध तरीके से भूखंड को फिर से आवंटित करने का आरोप है। पंचकूला के सेक्टर 6 में भूखंड संख्या सी-17 को 29 जून, 2005 को एजेएल को फिर से आवंटित किया गया था। यह भूमि करीब 3,360 वर्गमीटर थी।