1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. गोमती रिवर फ्रंट घोटाले के आरोपी कांट्रेक्टर से सीबीआई की पूछताछ पूरी, टीम लखनऊ पहुंची

गोमती रिवर फ्रंट घोटाले के आरोपी कांट्रेक्टर से सीबीआई की पूछताछ पूरी, टीम लखनऊ पहुंची

गोमती रिवरफ्रंट घोटाले के आरोपी कांट्रेक्टर पुनीत अग्रवाल से उत्तर प्रदेश के इटावा में देर रात दो बजे तक सीबीआई टीम ने पूछताछ पूरी कर ली है। इसके बाद सीबीआई की टीम लखनऊ वापस चली गई है। आज सीबीआई की टीम लखनऊ में वरिष्ठ अधिकारियों को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी, जिसके बाद आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

इटावा। गोमती रिवरफ्रंट घोटाले के आरोपी कांट्रेक्टर पुनीत अग्रवाल से उत्तर प्रदेश के इटावा में देर रात दो बजे तक सीबीआई टीम ने पूछताछ पूरी कर ली है। इसके बाद सीबीआई की टीम लखनऊ वापस चली गई है। आज सीबीआई की टीम लखनऊ में वरिष्ठ अधिकारियों को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी, जिसके बाद आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

पढ़ें :- CBI का चाइल्ड पोर्न के खिलाफ 'ऑपरेशन मेघचक्र', 20 राज्यों में 56 ठिकानों पर बड़ी कार्रवाई

सीबीआई के सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि प्रदेश भर में गोमती रिवर फ्रंट से जुड़े हुए आरोपियों के यहां छापेमारी में बाद सभी के दस्तावेजों के साथ साथ अन्य सबूतों को लेकर सीबीआई की विभिन्न टीमें राजधानी लखनऊ आज ही पहुंच जायेगी । यह टीमें अपने वरिष्ठ अधिकारियों को आज देर रात ही जांच रिपोर्ट सुपुर्द कर देगी जिसके बाद संबंधित आरोपियों की गिरफ्तारियां गुण दोष के आधार पर तय की जाएगी।

कांट्रेक्टर पुनीत अग्रवाल परिवार के साथ रात 10 बजे के आसपास इटावा के सिविल लाइन स्थित आवास विकास कालोनी अपने आवास पहुंचे। जहां पहले से मौजूद सीबीआई टीम और पुलिस ने गाड़ियों से उतरने के बाद सबसे पहले पुनीत अग्रवाल नाम पुकारा । पुनीत अग्रवाल ने जैसे ही हां में जबाब दिया वैसे ही सीबीआई टीम अग्रवाल के घर के भीतर चली गई। उसने अपनी गहन पड़ताल मुख्य गेट को बंद करके शुरू कर दी ।

पुनीत अग्रवाल से सीबीआई की टीम ने बारी-बारी से तमाम महत्वपूर्ण अति महत्वपूर्ण सवालों के पूछताछ के साथ साथ में दस्तावेजों का संकलन का काम किया । रात 2 बजे तक यह सिलसिला चलता रहा । पूछताछ पूरी होने और दस्तावेज संकलन का काम करने के बाद सीबीआई की टीम 2 बजे के बाद पुनीत अग्रवाल के घर से बाहर निकल वापस चली गई।

बता दें कि अखिलेश यादव की सरकार में राजधानी लखनऊ में गोमती रिवर फ्रंट घोटाले को लेकर सीबीआई ने एफआईआर के बाद उत्तर प्रदेश बंगाल और राजस्थान में छापेमारी की है। गोमती रिवरफ्रंट घोटाले को लेकर दो जून को हुई एफआईआर में 190 लोगों को नामजद किया गया है ।

पढ़ें :- TMC MLA इदरीस अली ने सुवेंदु अधिकारी पर कसा तंज, कहा-मैं पुरुष हूं, ED, CBI मुझे छू नहीं सकती

सीबीआई की टीम पुनीत अग्रवाल से पूछताछ के लिए 15 सवालों से जुड़ी हुई एक लिस्ट भी लाई थी, जिससे माध्यम से कांट्रेक्टर से जाना कि उन्होंने किस तरह से गोमती रिवर फ्रंट के लिए किस-किस सामग्री की आपूर्ति की है या फिर किस किस निर्माण में भूमिका अदा की है। किसी राजनेता ने तो ठेका दिलाने में मदद की है। कमीशन का स्तर क्या रहा है? इस तरह के कुछ सवाल पुनीत अग्रवाल से सीबीआई की टीम ने पूछे है, लेकिन यह साफ नही हो सका है कि पुनीत अग्रवाल से इस संबध मे क्या जबाब दिया ?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...