2018 से फिर शुरू होगी सीबीएसई 10वीं बोर्ड परीक्षा

नई दिल्ली: वर्ष 2010 में छात्रों पर दबाव कम हो इसका विचार करते हुए सीबीएसई ने ग्रेडिंग सिस्टम शुरू किया था। वर्ष 2018 से एक बार फिर सरकार ग्रेडिंग सिस्टम शुरू करना चाहती है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर 25 अकटूबर को बॉर्ड एग्जाम के सन्दर्भ में फैसला ले सकते हैं। इस साल 2016 में मानव संसाधन विकास मंत्रालय का प्रभार संभालने के बाद जावेडकर का यह सबसे बड़ा फैसला होगा।

खबर है कि इसी साल जावडेकर एक और बड़ा फैसला लेने वाले हैं। वो एक पॉलिसी शुरू करने वाले हैं ‘नो डिकटेंशन’ इस पॉलिसी में 5वीं तक के बच्चों को फेल नहीं किया जायेगा। इसके बाद राज्‍यों को 8वीं तक के लिए अपनी नीति बनानी होगी लेकिन परीक्षा में असफल होने वाले छात्रों को फिर से टेस्‍ट देने का मौका देना होगा।



बैठक में यह हो सकता है एजेंडा

– 25 अक्टूबर को होने वाली बैठक की संशोधित कार्यसूची के मुताबिक, राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर विस्तृत चर्चा होगी।

– 10वीं बोर्ड परीक्षा अनिवार्य बनाने, ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को युक्तिसंगत बनाने

– सीखने की प्रवृत्ति में सुधार करने, नेशनल एचीवमेंट सर्वे करने

– सेकेंडरी कक्षाओं में व्यावसायिक शिक्षा का विस्तार करने

– शिक्षा को तनावमुक्त बनाने जैसे विषय शामिल होंगे।

आस्था सिंह की रिपोर्ट