पेपर लीक मामले पर CBSE का बयान- संस्था को बदनाम करने की कोशिश, दर्ज कराई शिकायत

cbse board, delhi, paper leak
पेपर लीक मामला पर CBSE का बयान- संस्था को बदनाम करने की कोशिश, दर्ज कराई शिकायत
नई दिल्ली। सीबीएसई बोर्ड के 12वीं परीक्षा का एक पेपर लीक हो गया। व्हॉट्सएप पर अकाउंट्स का पेपर लीक होते ही यह हजारों मोबाइल फोन के जरिये लोगों के पास पहुंच गया। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने इस संबंध में शिक्षा विभाग से बात की है। वहीं सीबीएसई ने अकाउंट्स के पेपर लीक होने की बात से इनकार किया है। सीबीएसई की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सभी सेंटरों पर पेपर के लिफाफे पर…

नई दिल्ली। सीबीएसई बोर्ड के 12वीं परीक्षा का एक पेपर लीक हो गया। व्हॉट्सएप पर अकाउंट्स का पेपर लीक होते ही यह हजारों मोबाइल फोन के जरिये लोगों के पास पहुंच गया। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने इस संबंध में शिक्षा विभाग से बात की है। वहीं सीबीएसई ने अकाउंट्स के पेपर लीक होने की बात से इनकार किया है। सीबीएसई की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सभी सेंटरों पर पेपर के लिफाफे पर लगी सील सही स्थिति में थी और कहीं से भी पेपर लीक नहीं हुआ है।

सीबीएसई ने अपने बयान में कहा कि कुछ शरारती तत्वों ने व्हाट्सऐप पर पेपर के लीक होने की खबरें फैलाई और एक जाली पेपर लीक किया। इसके जरिए संस्था को बदनाम करने की कोशिश हुई। सीबीएसई ने कहा कि इस संबंध में सीबीएसई ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है।

{ यह भी पढ़ें:- सिसोदिया ने उपराज्यपाल को बताया 'तानाशाह' }

ये था मामला-

पेपर लीक की खबरों के बाद दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, सीबीएसई के 12वीं क्लास के पेपर लीक होने की शिकायत मिली है। शिक्षा निदेशालय के अधिकारियों को मामले की जांच करने और इस बारे में शिकायत दर्ज करने को कहा गया है।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली सरकार और LG में फिर टकराव, राघव चड्ढा सहित 9 सलाहकार को हटाया   }

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीबीएसई का मानना है कि पेपर लीक करना किसी स्टूडेंट का काम नहीं हो सकता। माना जा रहा है कि किसी अंदर के ही कर्मचारी ने एग्जाम पेपर को लीक करने में मदद की है।

Loading...