सामने आया प्रद्युम्न हत्याकांड का सीसीटीवी फुटेज

नई दिल्ली। रेयान इंटरनेशनल स्कूल के सात वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या मामले में पुलिस के हाथ सीसीटीवी फुटेज लगा है। यह फुटेज उसी कैमरे का बताया जा रहा है जिसे कालेज प्रशान की ओर से खराब करार दिया गया था। बताया जा रहा है कि इस फुटेज में स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है कि प्रद्युम्न और अब तक उसकी हत्या का आरोपी माना जा रहा बस कंडक्टर अशोक एक के बाद एक कर टॉयलेट में प्रवेश करते हैं। जिसके 10 मिनट बाद आरोपी अशोक टॉयलेट से बाहर आ जाता है। अशोक के बाहर आने के कुछ देर बाद प्रद्युम्न घायल अवस्था में बाथरुम की फर्श पर घिसटता हुआ बाहर आता है। जहां स्कूल का माली उसे लहूलुहान अवस्था में देखते ही शोर मचाकर पूरे स्टॉफ को इकट्ठा कर लेता है।

इस पूरे फुटेज में किसी तीसरे आदमी को टॉयलेट में जाते नहीं देखा गया है। जबकि प्रद्युम्न के परिजनों का आरोप है कि हत्या के समय आरोपी अशोक के साथ कोई तीसरा व्यक्ति भी टॉयलेट के भीतर मौजूद था। जिसे बचाया जा रहा है।

{ यह भी पढ़ें:- बहू की जिद से हारा परिवार, बन गयी 'टॉयलेट एक प्रेमकथा' पार्ट-2 }

इस पूरे मामले में टॉयलेट में लगी लोहे की जानी का टूटा होना पुलिस द्वारा कंडक्टर अशोक को हत्यारोपी बनाए जाने वाली थ्यौरी पर सवाल खड़े कर रहा है। इसी आधार पर पीड़ित परिजनों ने स्कूल प्रशासन पर तीसरे व्यक्ति को बचाने के आरोप लगाए हैं।

परिजनों की थ्यौरी को सही माने तो कंडक्टर और एक अन्य व्यक्ति घटना के समय टॉयलेट में मौजूद था। जहां पहुंचे प्रद्युम्न ने कुछ ऐसा देख लिया जिसके लिए जिसकी कीमत उसे अपनी जान देकर चुकानी पड़ी।

{ यह भी पढ़ें:- प्रद्युम्‍न हत्‍याकांड: कंडक्‍टर की पत्‍नी ने कहा, गुनाह कबूलवाने के लिए नशा भी दिया }

Loading...