पैकफेड के कार्यक्रम में चेयरमैन तोताराम को नहीं मिली कुर्सी, शिवपाल यादव ने किया नजरअंदाज

लखनऊ। यूपी के मैनपुरी में पंचायत चुनाव के दौरान विधायन एवं निर्माण सहकारी संघ (पैकफेड) के चेयरमैन तोता राम यादव पर बूथ  कैपचरिंग के आरोपों के बाद बड़े नेता उनसे दूरी बनाने लगे हैं। सोमवार को गोमती नगर विस्तार में बने पैकफेड के नये भवन के उद्घाटन समारोह में उन्हे मंच पर कुर्सी तक नहीं मिली, जबकि तोताराम स्वयं इस कार्यक्रम के सभापति थे। इस भवन का उद्घाटन सहकारिता मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने किया। पैकफेड सहकारिता विभाग के अंतर्गत ही काम करती है।  

प्रत्यक्ष दर्शियों की माने तो कैबिनेट मंत्री के आने से पहले तक तोताराम यादव मंच पर विशिष्ट अतिथियों के लिए खाली पड़ी कुर्सीयों में से एक  पर पहले से विराजमान थे। इसके बाद  शिवपाल सिंह यादव वहाँ पहुंचे और पैकफेड कार्यालय भवन के उद्घाटन करने के बाद तोताराम यादव को मंच पर लगी कुर्सी पर इशारे से ही बैठने से मना कर दिया। इस समारोह का निमंत्रण पत्र भी सभापति तोताराम यादव यादव तथा प्रबंध निदेशक राजीव यादव की ओर से सभी को भेजा गया था।

समारोह के दौरान तोताराम यादव, शिवपाल यादव के आने से पहले ही उनके लिए खाली कुर्सी के बगल की कुर्सी पर बैठे हुए थे। मैनपुरी में बूथ कैप्चरिंग समेत कई विवादों में फंसे तोताराम को मंच पर शिवपाल यादव के बगल की कुर्सी से हटाकर एलएलसी एसआरएस यादव को बैठाया गया। कुर्सी से उठाए जाने के बाद तोताराम यादव मंच पर शिवपाल यादव के पीछे खड़े नज़र आए।