नवरात्रि 2018: जानिए कब से प्रारम्भ होगा चैत्र नवरात्रि, कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

navratri, चैत्र नवरात्रि 2018
चैत्र नवरात्रि 2018: एक ही दिन पड़ रही है अष्टमी और नवमी, जानिए कन्या पूजन का शुभ मुहूर्त

लखनऊ। वर्ष 2018 में चैत्र नवरात्रि 18 मार्च यानि रविवार से शुरू हो रहे हैं। हिंदू पंचांग की माने तो चैत्र नवरात्रि से ही नए साल की शुरूआत होती है। वैसे तो साल में 4 नवरात्रि होतीं हैं, जिनमें से दो गुप्त नवरात्रि कहलातीं है, जबकि चैत्र और आश्विन नवरात्रि को बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है। साल 2018 में चैत्र नवरात्रि 18 मार्च को शुरू हो रहे हैं और यह 25 मार्च तक रहेंगे। 25 मार्च को नवरात्रि का आखिरी दिन यानि रामनवमी होगी। 26 मार्च को नवरात्रि का व्रत पूरा हो जाएगा। इस बार अष्टमी और नवमी एक ही दिन 25 मार्च को होगी।

नवरात्र के दौरान लोग साफ-सफाई और खान-पान की चीजों का विशेष ध्यान रखते हैं। हिंदू धर्म में चैत्र नवरात्रि का ज्यादा महत्व होता है। माना जाता है इस महीने से शुभता और ऊर्जा का आरंभ होता है और ऐसे समय में मां काली की पूजा से घर में सुख-समृद्धि आती है।

{ यह भी पढ़ें:- चैत्र नवरात्रि 2018: एक ही दिन पड़ रही है अष्टमी और नवमी, जानिए कन्या पूजन का शुभ मुहूर्त }

नवरात्रि के दौरान 9 दिन व्रत किया जाता है। मां दुर्गा के 9 रूपों की आराधना की जाती है। नवरात्र के एक दिन पहले दिन घटस्थापना की जाती है। इसके बाद लगातार नौ दिनों तक मां की पूजा व उपवास किया जाता है। दसवें दिन कन्या पूजन के बाद व्रत को खोला जाता है।

मां दुर्गा के 9 रूप- मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्रि मां के नौ अलग-अलग रुप हैं।

{ यह भी पढ़ें:- नवरात्रि में इन मंत्रों के जाप से पूरी होगी मनोकामना, दूर होगी आर्थिक तंगी }

कलश स्थापना का मुहूर्त

अगर आप नवरात्रि में अपने स्थान पर कलश-स्थापना (घटस्थापना) करते हैं तो इसका शुभ मुहूर्त 18 मार्च को प्रातः 07 बजकर 35 मिनट से लेकर दोपहर बाद 3 बजकर 35 मिनट तक होगा। इस दौरान घटस्थापना करना सबसे शुभफलदायक होगा।

आपको बता दें कि इस वर्ष चैत्र नवरात्रि में कई शुभ संयोग बन रहे हैं। हिन्दू पांचांग की दृष्टि से नवरात्रि के दिन से हिन्दू नववर्ष प्रारम्भ होता है। इस वर्ष नववर्ष का आरंभ रविवार से हो रहा है, चूंकि रविवार सूर्य देवता का दिन है इसलिए वर्ष का स्वामी ग्रह सूर्य होगा।

{ यह भी पढ़ें:- स्त्री हो या पुरुष नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये काम, नाराज हो जाती है धन की लक्ष्मी }

लखनऊ। वर्ष 2018 में चैत्र नवरात्रि 18 मार्च यानि रविवार से शुरू हो रहे हैं। हिंदू पंचांग की माने तो चैत्र नवरात्रि से ही नए साल की शुरूआत होती है। वैसे तो साल में 4 नवरात्रि होतीं हैं, जिनमें से दो गुप्त नवरात्रि कहलातीं है, जबकि चैत्र और आश्विन नवरात्रि को बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है। साल 2018 में चैत्र नवरात्रि 18 मार्च को शुरू हो रहे हैं और यह 25 मार्च तक रहेंगे। 25 मार्च को नवरात्रि का…
Loading...