चैत्र नवरात्र 2019: 6 अप्रैल से शुरू होंगे नवरात्र, जानें कौन से दिन किन देवी की होगी पूजा

navratri 2019
Navratri 2019

लखनऊ। हिन्दू धर्म में मां दुर्गा के नौ दिनों यानि नवरात्रि का बेहद खास महत्त्व होता है। यही नहीं हिंदू धर्म के अनुसार नए साल की शुरुआत भी चैत्र नवरात्र से ही होती है।  इस बार चैत्र नवरात्र 6 अप्रैल से शुरू होकर 14 अप्रैल तक यानि पूरे 9 दिनों तक चलेगा। आज हम आपको इस बार पहने वाले चैत्र वनरात्रि से जुड़ी कुछ खा बातों के बारे में बताएँगे।

Chaitra Navratri 2019 :

नवरात्रि के इन नौ दिनों में भक्त मां दुर्गा के नौ रुपों की पूजा करते हैं।  इस वर्ष चैत्र नवरात्रि पर कई शुभ संयोग भी बन रहे हैं। ज्योतिषियों की मानें तो इस बार चैत्र नवरात्रि में 5 सर्वार्थ सिद्धि, 2 रवि योग का संयोग बन रहा है। ऐसे शुभ संयोग के दौरान  कलश स्थापना से लेकर देवी की उपासना करने पर व्यक्ति को विशेष फल की प्राप्ति होती है। चलिए जानते हैं कि इन नौ दिनों में कौन से दिन किस देवी की पूजा करनी चाहिए।  

किस दिन होगी किस देवी की पूजा-

 6 अप्रैल- पहला नवरात्र – घट स्थापन व मां शैलपुत्री पूजा,  मां ब्रह्मचारिणी पूजा

 7 अप्रैल- दूसरा नवरात्र-  मां चंद्रघंटा पूजा

 8 अप्रैल- तीसरा नवरात्र-  मां कुष्मांडा पूजा

 9 अप्रैल- चौथा नवरात्र- मां स्कंदमाता पूजा

 10 अप्रैल- पांचवां नवरात्र-पंचमी तिथि सरस्वती आह्वाहन

 11 अप्रैल- छष्ठ नवरात्र – मां कात्यायनी पूजा

 12 अप्रैल- सातवां नवरात्र- मां कालरात्रि पूजा

 13 अप्रैल- अष्टमी नवरात्र-महागौरी पूजा

 14 अप्रैल- नवमी-  सिद्धि दात्री माता

लखनऊ। हिन्दू धर्म में मां दुर्गा के नौ दिनों यानि नवरात्रि का बेहद खास महत्त्व होता है। यही नहीं हिंदू धर्म के अनुसार नए साल की शुरुआत भी चैत्र नवरात्र से ही होती है।  इस बार चैत्र नवरात्र 6 अप्रैल से शुरू होकर 14 अप्रैल तक यानि पूरे 9 दिनों तक चलेगा। आज हम आपको इस बार पहने वाले चैत्र वनरात्रि से जुड़ी कुछ खा बातों के बारे में बताएँगे।

नवरात्रि के इन नौ दिनों में भक्त मां दुर्गा के नौ रुपों की पूजा करते हैं।  इस वर्ष चैत्र नवरात्रि पर कई शुभ संयोग भी बन रहे हैं। ज्योतिषियों की मानें तो इस बार चैत्र नवरात्रि में 5 सर्वार्थ सिद्धि, 2 रवि योग का संयोग बन रहा है। ऐसे शुभ संयोग के दौरान  कलश स्थापना से लेकर देवी की उपासना करने पर व्यक्ति को विशेष फल की प्राप्ति होती है। चलिए जानते हैं कि इन नौ दिनों में कौन से दिन किस देवी की पूजा करनी चाहिए।  

किस दिन होगी किस देवी की पूजा-

 6 अप्रैल- पहला नवरात्र - घट स्थापन व मां शैलपुत्री पूजा,  मां ब्रह्मचारिणी पूजा

 7 अप्रैल- दूसरा नवरात्र-  मां चंद्रघंटा पूजा

 8 अप्रैल- तीसरा नवरात्र-  मां कुष्मांडा पूजा

 9 अप्रैल- चौथा नवरात्र- मां स्कंदमाता पूजा

 10 अप्रैल- पांचवां नवरात्र-पंचमी तिथि सरस्वती आह्वाहन

 11 अप्रैल- छष्ठ नवरात्र - मां कात्यायनी पूजा

 12 अप्रैल- सातवां नवरात्र- मां कालरात्रि पूजा

 13 अप्रैल- अष्टमी नवरात्र-महागौरी पूजा

 14 अप्रैल- नवमी-  सिद्धि दात्री माता