1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Chaitra Navratri 2022 : देवी दुर्गा के नवें स्वरूप  में माँ सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है, जानें महानवमी मुहूर्त के बारे में

Chaitra Navratri 2022 : देवी दुर्गा के नवें स्वरूप  में माँ सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है, जानें महानवमी मुहूर्त के बारे में

मां दुर्गा की उपासना के नौवें दिन माँ सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है।'नवरात्रि' के नौ दिनों में से नौवें दिन को 'महानवमी' कहा जाता है। इस दिन कन्याओं को भोजन कराया जाता है। माँ सिद्धिदात्री सिद्धियाँ प्रदान करने वाली हैं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Chaitra Navratri 2022 : मां दुर्गा की उपासना के नौवें दिन माँ सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है।’नवरात्रि’ के नौ दिनों में से नौवें दिन को ‘महानवमी’ कहा जाता है। इस दिन कन्याओं को भोजन कराया जाता है। माँ सिद्धिदात्री सिद्धियाँ प्रदान करने वाली हैं। माँ सिद्धिदात्री ये सभी प्रकार की सिद्धियों को देने वाली हैं।पौराणिक मान्यता के अनुसार,इस दिन शास्त्रीय विधि-विधान और पूर्ण निष्ठा के साथ साधना करने वाले साधक को सभी सिद्धियों की प्राप्ति हो जाती है।मार्कण्डेय पुराण के अनुसार अणिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्राकाम्य, ईशित्व और वशित्व- ये आठ सिद्धियाँ होती हैं। इस बार महा नवमी के दिन रवि पुष्य योग और सर्वार्थ सिद्धि योग पूरे दिन रहेगा।

पढ़ें :- Budh Gochar 2023 : बुध के गोचर से इन राशियों की बदलने वाली है किस्मत, होगी तरक्की

महानवी का शुभ मुहूर्त
चैत्र शुक्ल नवमी तिथि का प्रारंभ: 09 अप्रैल, दिन शनिवार, देर रात 01:23 बजे से
चैत्र शुक्ल नवमी तिथि का समापन: 11 अप्रैल, दिन सोमवार, सुबह 03:15 बजे
रवि योग: 10 अप्रैल को प्रात: 04:31 बजे से सुबह 06:01 बजे तक

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...