सीएम चंद्रबाबू का बड़ा बयान- 2019 में क्षेत्रीय दल होंगे किंगमेकर, मोदी सत्ता से बाहर जाएंगे

विजयवाड़ा। कुछ समय पहले तक मोदी सरकार का हिस्सा रही आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की टीडीपी यानी तेलगू देशम पार्टी अब बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल चुकी है। विजयवाड़ा में टीडीपी (तेलुगु देशम पार्टी) के एक कार्यक्रम में चंद्रबाबू ने कहा कि आने वाले 2019 लोकसभा चुनाव में क्षेत्रीय दल किंगमेकर साबित होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने वायदों को पूरा करने में पूरी तरफ से फेल हुए हैं। मुझे यकीन है कि भाजपा वापस सत्ता में नहीं आ पाएगी।

Chandrababu Naidu Attacks Bjp Narendra Modi Says In 2019 Regional Parties Will Be The Kingmaker :

तेलुगु देशम पार्टी के सालाना सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए नायडू ने कहा कि हमारी पार्टी टीडीपी ने अतीत में सरकार के गठन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी, पार्टी के पास देश के राजनीतिक परिदृश्य को बदलने की भी ताकत थी। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने 2019 में बीजेपीके रथ को रोकने के लिए समान विचार वाले राजनीतिक दलों के साथ गठबंधन करने के भी संकेत दिए। उन्होंने कहा, ‘2019 में क्षेत्रीय पार्टियां किंगमेकर होंगी। सारी क्षेत्रीय पार्टियां बीजेपी को हराने के लिए एक साथ आ रही हैं। आने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी हार का स्वाद चखेगी।’

नायडु का दावा- टीडीपी होगी सबसे बड़ी पार्टी

आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडु का दावा है कि 2019 के लोकसभा चुनावों में टीडीपी का सबसे अहम रोल होगा। यहां तक उन्होंने दावा किया कि बेंगलुरु में एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में उनसे सभी पार्टियों ने मुलाकात भी की है। हालांकि, नायडु ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री बनने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

कांग्रेस का मोदी सरकार पर हमला, कहा-केंद्र में झूठ की सरकार

कर्नाटक में विपक्षी पार्टियों की एकजुटता को 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर विपक्ष का शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है. ऐसा माना जा रहा है कि 2019 लोकसभा चुनाव में विपक्षी पार्टियां बीजेपी को हराने के लिए एकजुट होंगी और सत्ता से मोदी सरकार के हटाने की कोशिश करेंगी।

दरअसल, चंद्रबाबू नायडू का यह बयान इसलिए भी खास है क्योंकि कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में विपक्षी एकजुटता की झलक दिखी थी, जहां विपक्षी पार्टियों के नेताओं समेत एंटी बीजेपी मोर्चा के सभी क्षेत्रिय पार्टियों के नेताओं को जमावड़ा देखने को मिला था। शपथग्रहण समारोह में खुद चंद्रबाबू नायडू भी पहुंचे थे।

विजयवाड़ा। कुछ समय पहले तक मोदी सरकार का हिस्सा रही आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की टीडीपी यानी तेलगू देशम पार्टी अब बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल चुकी है। विजयवाड़ा में टीडीपी (तेलुगु देशम पार्टी) के एक कार्यक्रम में चंद्रबाबू ने कहा कि आने वाले 2019 लोकसभा चुनाव में क्षेत्रीय दल किंगमेकर साबित होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने वायदों को पूरा करने में पूरी तरफ से फेल हुए हैं। मुझे यकीन है कि भाजपा वापस सत्ता में नहीं आ पाएगी। तेलुगु देशम पार्टी के सालाना सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए नायडू ने कहा कि हमारी पार्टी टीडीपी ने अतीत में सरकार के गठन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी, पार्टी के पास देश के राजनीतिक परिदृश्य को बदलने की भी ताकत थी। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने 2019 में बीजेपीके रथ को रोकने के लिए समान विचार वाले राजनीतिक दलों के साथ गठबंधन करने के भी संकेत दिए। उन्होंने कहा, '2019 में क्षेत्रीय पार्टियां किंगमेकर होंगी। सारी क्षेत्रीय पार्टियां बीजेपी को हराने के लिए एक साथ आ रही हैं। आने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी हार का स्वाद चखेगी।' नायडु का दावा- टीडीपी होगी सबसे बड़ी पार्टी आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडु का दावा है कि 2019 के लोकसभा चुनावों में टीडीपी का सबसे अहम रोल होगा। यहां तक उन्होंने दावा किया कि बेंगलुरु में एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में उनसे सभी पार्टियों ने मुलाकात भी की है। हालांकि, नायडु ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री बनने में कोई दिलचस्पी नहीं है। कांग्रेस का मोदी सरकार पर हमला, कहा-केंद्र में झूठ की सरकार कर्नाटक में विपक्षी पार्टियों की एकजुटता को 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर विपक्ष का शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है. ऐसा माना जा रहा है कि 2019 लोकसभा चुनाव में विपक्षी पार्टियां बीजेपी को हराने के लिए एकजुट होंगी और सत्ता से मोदी सरकार के हटाने की कोशिश करेंगी। दरअसल, चंद्रबाबू नायडू का यह बयान इसलिए भी खास है क्योंकि कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में विपक्षी एकजुटता की झलक दिखी थी, जहां विपक्षी पार्टियों के नेताओं समेत एंटी बीजेपी मोर्चा के सभी क्षेत्रिय पार्टियों के नेताओं को जमावड़ा देखने को मिला था। शपथग्रहण समारोह में खुद चंद्रबाबू नायडू भी पहुंचे थे।