1. हिन्दी समाचार
  2. चंद्रयान 2 का प्रक्षेपण तकनीकी खामी की वजह से टला, जल्द नई तारीख का होगा ऐलान

चंद्रयान 2 का प्रक्षेपण तकनीकी खामी की वजह से टला, जल्द नई तारीख का होगा ऐलान

Chandrayaan 2 Launch Called Off Due To Technical Glitch Isro To Announce New Date

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

नई दिल्ली। सोमवार तड़के होने वाले चंद्रयान 2 के प्रक्षेपण को तकनीकी खामी की वजह से टाल दिया। इसके लिए अब नई तारीख की घोषणा की जाएगी। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो ने ट्वीट किया कि प्रक्षेपण यान प्रणाली में टी56 मिनट पर तकनीकी खामी दिखी। एहतियात के तौर पर चंद्रयान.2 का प्रक्षेपण आज के लिए टाल दिया गया है।

पढ़ें :- बिहार चुनाव: विधानसभा चुनाव 2015 में मिली थी महागठबंधन को जीत, इस बार नीतीश या फिर तेजस्वी...

नई तारीख की घोषणा बाद में की जाएगी। सोमवार तड़के 2.51 बजे होने वाले प्रक्षेपण की उल्टी गिनती 56 मिनट 24 सेकंड पहले मिशन नियंत्रण कक्ष से घोषणा के बाद रात 1.55 बजे रोक दी गई। राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द प्रक्षेपण देखने के लिए श्रीहरिकोटा में ही थे। इसरो की ओर से प्रक्षेपण टालने की की आधिकारिक पुष्टि किए जाने से पहले भ्रम की स्थिति बनी रही।

इसरो के सह.निदेशक जनसंपर्क बीआर गुरुप्रसाद ने कहा प्रक्षेपण यान प्रणाली में टी.56 मिनट पर एक तकनीकी खामी दिखी। एहतियात के तौर पर चंद्रयान 2 का प्रक्षेपण आज के लिए टाल दिया गया है। उन्होंने कहा नई तारीख की घोषणा बाद में की जाएगी। इसरो के एक अन्य अधिकारी ने कहा तकनीकी खामी की वजह से प्रक्षेपण टाला जाता है। लॉंच विंडो के अंदर प्रक्षेपण करना संभव नहीं है। प्रक्षेपण की नई तारीख की घोषणा बाद में की जाएगी।

अंतरिक्ष एजेंसी ने इससे पहले प्रक्षेपण की तारीख जनवरी के पहले सप्ताह में रखी थी लेकिन बाद में इसे बदलकर 15 जुलाई कर दिया था। चंद्रययान 2 को जीएसएलवी मार्क।।।.एम.1 रॉकेट के जरिए चांद पर ले जाया जाना था। श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से आज तड़के होने वाले प्रक्षेपण पर पूरे देश की निगाहें लगी थीं।

इस 3850 किलोग्राम वजनी अंतरिक्ष यान को अपने साथ एक ऑर्बिटर एक लैंडर और एक रोवर लेकर जाना था। अब तक के सबसे शक्तिशाली प्रक्षेपण यान जीएसएलवी मार्क.।।।.एम.1 रॉकेट के साथ 978 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित चंद्रयान 2 का प्रक्षेपण होने की स्थिति में इसे चंद्रमा तक पहुंचने में 54 दिन लगते।

पढ़ें :- यस बैंक मामला: ED ने जब्त की राणा कपूर की लंदन स्थित 127 करोड़ की संपत्ति

पिछले हफ्ते प्रक्षेपण संबंधी पूर्ण अभ्यास के बाद रविवार 14 जुलाई सुबह 6.51 बजे इसके प्रक्षेपण की उल्टी गिनती शुरू हुई थी। कई वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों ने कहा है कि प्रक्षेपण टलने से थोड़ी निराशा जरूर हुई है लेकिन समय रहते तकनीकी खामी का पता चल जाना एक अच्छी बात है। उन्होंने प्रक्षेपण की नई तारीख की जल्द घोषणा होने की उम्मीद भी व्यक्त की है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...