facebook लवर निकला लड़का, पुलिसकर्मी ने कर दी हत्या

facebook लवर निकला लड़का, पुलिसकर्मी ने कर दी हत्या
facebook लवर निकला लड़का, पुलिसकर्मी ने कर दी हत्या

नई दिल्ली। सोशल साइट्स पर फेक अकाउंट बनाकर चैटिंग करना एक लड़के को काफी महंगा साबित हुआ। लड़की के नाम से फेसबुक अकाउंट चलाने वाले लड़के की पुलिसकर्मी ने साथियों के साथ मिलकर हत्या कर दी। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मुख्य आरोपी अभी फरार है। पकड़े गए आरोपियों ने हत्या की बात कबूल की है।

Chennai Police Constable Kills Fb Lover After She Turns Out To Be Male :

मिली जानकारी के मुताबिक, कांस्टेबल कन्नन कुमार(32) कुछ समय से फेसबुक पर दोस्त बनी एक लड़की से खूब चैटिंग कर रहा था। पुलिस ने बताया कि मृतक एस अय्यानार ने एक लड़की के नाम से फेक फेसबुक आईडी बनाई हुई थी और उसी आईडी से वह आरोपी कांस्टेबल से बातें किया करता था। कांस्टेबल कन्नन कुमार फेसबुक पर दोस्त बनी लड़की के प्रेम में पड़ गया। उसने अपनी फेसबुक लवर से सच में मिलने का फैसला किया।

इसी के चलते कन्नन ने 10 दिन की छुट्टी ले ली। जब वह फेसबुक लवर से मिलने पहुंचा तो उसे पता चला कि वास्तव में फेसबुक पर उससे बात करने वाला कोई लड़की नहीं बल्कि एक लड़का था। इस ऑनलाइन रिलेशनशिप में आरोपी से एक मोटी रकम भी ऐंठी गई थी। इस घटना ने आरोपी सिपाही को इतना आहत कर दिया कि उसने आत्महत्या करने की कोशिश की। बाद में उसने अपने साथियों के साथ मिलकर उसकी हत्या की साजिश रच डाली।

पुलिस के मुताबिक आरोपी कन्नन फरार चल रहा है, जबकि उसके तीनों दोस्तों विजयकुमार, तमिलरासन और तेंजिंग को गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। मुख्य आरोपी की तलाश के लिए पुलिस टीम ने अभियान शुरू कर दिया है।

नई दिल्ली। सोशल साइट्स पर फेक अकाउंट बनाकर चैटिंग करना एक लड़के को काफी महंगा साबित हुआ। लड़की के नाम से फेसबुक अकाउंट चलाने वाले लड़के की पुलिसकर्मी ने साथियों के साथ मिलकर हत्या कर दी। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मुख्य आरोपी अभी फरार है। पकड़े गए आरोपियों ने हत्या की बात कबूल की है।मिली जानकारी के मुताबिक, कांस्टेबल कन्नन कुमार(32) कुछ समय से फेसबुक पर दोस्त बनी एक लड़की से खूब चैटिंग कर रहा था। पुलिस ने बताया कि मृतक एस अय्यानार ने एक लड़की के नाम से फेक फेसबुक आईडी बनाई हुई थी और उसी आईडी से वह आरोपी कांस्टेबल से बातें किया करता था। कांस्टेबल कन्नन कुमार फेसबुक पर दोस्त बनी लड़की के प्रेम में पड़ गया। उसने अपनी फेसबुक लवर से सच में मिलने का फैसला किया।इसी के चलते कन्नन ने 10 दिन की छुट्टी ले ली। जब वह फेसबुक लवर से मिलने पहुंचा तो उसे पता चला कि वास्तव में फेसबुक पर उससे बात करने वाला कोई लड़की नहीं बल्कि एक लड़का था। इस ऑनलाइन रिलेशनशिप में आरोपी से एक मोटी रकम भी ऐंठी गई थी। इस घटना ने आरोपी सिपाही को इतना आहत कर दिया कि उसने आत्महत्या करने की कोशिश की। बाद में उसने अपने साथियों के साथ मिलकर उसकी हत्या की साजिश रच डाली।पुलिस के मुताबिक आरोपी कन्नन फरार चल रहा है, जबकि उसके तीनों दोस्तों विजयकुमार, तमिलरासन और तेंजिंग को गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। मुख्य आरोपी की तलाश के लिए पुलिस टीम ने अभियान शुरू कर दिया है।