चेन्नई: AIADMK की ‘अवैध होर्डिंग’ गिरने से घायल युवती को टैंकर ने रौंदा, मौत

girl
चेन्नई: AIADMK की 'अवैध होर्डिंग' गिरने से घायल युवती को टैंकर ने रौंदा, मौत

नई दिल्ली। तमिलनाडु के चेन्नई से एक दर्दनाक घटना सामने आई है। यहां स्कूटी सवार एक 23 साल की लड़की की कथित तौर पर बैनर गिरने से मौत हो गई। एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करने वाली 23 वर्षीय सुबाश्री अपने ऑफिस से घर की ओर जा रही थीं, उसी दौरान रास्ते में एआईएडीएमके का अवैध रूप से लगी होर्डिंग युवती के ऊपर गिर गई। होर्डिंग के गिरते ही पीछे की ओर से तेजी से आ रही एक टैंकर ने युवती को कुचल दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

Chennai Tanker Trampled Injured Woman Killed By Aiadmks Illegal Hoarding Fall :

पुलिस ने बताया कि आर सुबाश्री कांथाचेवदी में एक सॉफ्टवेयर फर्म में काम करती थी। वह सुबह छह बजे ऑफिस गई थी और दोपहर दो बजे शिफ्ट पूरी होने के बाद ऑफिस से निमिलीचेरी, क्रोमपेट स्थित अपने घर जा रही थी। पल्लवराम थोरइपक्कम रेडियल रोड पर सत्ताधारी पार्टी एआईएडीएमके का एक होर्डिंग अवैध रूप से लगाया जा रहा था और वह युवती के ऊपर गिर पड़ा। सुबाश्री स्कूटी से गिर पड़ी और पीछे से आ रहे पानी के टैंकर ने उसे रौंद दिया।

स्थानीय नेता ने लगवाया था होर्डिंग

ये जानलेवा होर्डिंग सत्तारूढ़ ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कषगम (AIADMK) के स्थानीय नेता सी. जयगोपाल ने लगवाया था। ये होर्डिंग सी. जयगोपाल ने अपने परिवार में होने वाले शादी समारोह को लेकर लगवाया था। इस होर्डिंग में तमिलनाडु के सीएम ई. पलानीसामी और डिप्टी सीएम ओ. पन्नीरसेल्वम के साथ जे. जयललिता की तस्वीरें थीं। इसे रोड के बीच में गैरकानूनी तरीके से लगा दिया गया था। लापरवाही से पानी के टैंकर को चला रहे ड्राइवर को गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया गया है।

तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी द्रविड़ मुनेत्र कषगम (DMK) ने इस युवती की मौत पर राज्य सरकार और चेन्नई पुलिस की कड़ी आलोचना की है। गौरतलब है कि मद्रास उच्च न्यायालय ने पहले के निर्णयों में होर्डिंग्स और कट-आउट के प्रतिबंध पर प्रतिबंध लगा दिया था और इस प्रवृत्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की पार्टियों को चेतावनी दी थी।  

अगले महीने जाने वाली भी कनाडा

सुबाश्री को आनन फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वह अगले महीने कनाडा जाने वाली थी। वह कनाडा जाने की तैयारी कर रही थी और बहुत खुश थी।

एआईएडीएमके के पूर्व पार्षद जयगोपाल ने अपने बेटे की शादी के लिए कई बैनर लगाए थे। इस घटना के तुरंत बाद लोगों ने उस होर्डिंग्स को फाड़ दिया। इस इलाके में लगभघ पचास बैनर और होर्डिंग्स लगाए गए थे। AIADMK कार्यकर्ता भी कुछ बैनर उतारते हुए दिखाई दिए।  

नई दिल्ली। तमिलनाडु के चेन्नई से एक दर्दनाक घटना सामने आई है। यहां स्कूटी सवार एक 23 साल की लड़की की कथित तौर पर बैनर गिरने से मौत हो गई। एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करने वाली 23 वर्षीय सुबाश्री अपने ऑफिस से घर की ओर जा रही थीं, उसी दौरान रास्ते में एआईएडीएमके का अवैध रूप से लगी होर्डिंग युवती के ऊपर गिर गई। होर्डिंग के गिरते ही पीछे की ओर से तेजी से आ रही एक टैंकर ने युवती को कुचल दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि आर सुबाश्री कांथाचेवदी में एक सॉफ्टवेयर फर्म में काम करती थी। वह सुबह छह बजे ऑफिस गई थी और दोपहर दो बजे शिफ्ट पूरी होने के बाद ऑफिस से निमिलीचेरी, क्रोमपेट स्थित अपने घर जा रही थी। पल्लवराम थोरइपक्कम रेडियल रोड पर सत्ताधारी पार्टी एआईएडीएमके का एक होर्डिंग अवैध रूप से लगाया जा रहा था और वह युवती के ऊपर गिर पड़ा। सुबाश्री स्कूटी से गिर पड़ी और पीछे से आ रहे पानी के टैंकर ने उसे रौंद दिया। स्थानीय नेता ने लगवाया था होर्डिंग ये जानलेवा होर्डिंग सत्तारूढ़ ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कषगम (AIADMK) के स्थानीय नेता सी. जयगोपाल ने लगवाया था। ये होर्डिंग सी. जयगोपाल ने अपने परिवार में होने वाले शादी समारोह को लेकर लगवाया था। इस होर्डिंग में तमिलनाडु के सीएम ई. पलानीसामी और डिप्टी सीएम ओ. पन्नीरसेल्वम के साथ जे. जयललिता की तस्वीरें थीं। इसे रोड के बीच में गैरकानूनी तरीके से लगा दिया गया था। लापरवाही से पानी के टैंकर को चला रहे ड्राइवर को गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया गया है। तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी द्रविड़ मुनेत्र कषगम (DMK) ने इस युवती की मौत पर राज्य सरकार और चेन्नई पुलिस की कड़ी आलोचना की है। गौरतलब है कि मद्रास उच्च न्यायालय ने पहले के निर्णयों में होर्डिंग्स और कट-आउट के प्रतिबंध पर प्रतिबंध लगा दिया था और इस प्रवृत्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की पार्टियों को चेतावनी दी थी।   अगले महीने जाने वाली भी कनाडा सुबाश्री को आनन फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वह अगले महीने कनाडा जाने वाली थी। वह कनाडा जाने की तैयारी कर रही थी और बहुत खुश थी। एआईएडीएमके के पूर्व पार्षद जयगोपाल ने अपने बेटे की शादी के लिए कई बैनर लगाए थे। इस घटना के तुरंत बाद लोगों ने उस होर्डिंग्स को फाड़ दिया। इस इलाके में लगभघ पचास बैनर और होर्डिंग्स लगाए गए थे। AIADMK कार्यकर्ता भी कुछ बैनर उतारते हुए दिखाई दिए।