नहीं रहे छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास टंडन

नहीं रहे छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास टंडन
नहीं रहे छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास टंडन

Chhattisgarh Governor Balram Das Tandon Condition Is Fragile

नई दिल्ली। दिल का दौरा पड़ने से छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलरामदास टंडन का रायपुर के मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में निधन हो गया। उनको मंगलवार सुबह दिल का दौरा पड़ने के बाद अंबेडकर अस्पताल(मेकाहारा) में भर्ती कराया गया था। दोपहर में राज्यपाल का हाल जानने पहुंचे मुख्यमंत्री रमन सिंह ने उनके निधन की जनकारी दी। शाम 4 से 5 बजे के बीच उनका शव अंतिम दर्शन के लिए राजभवन में रखा जाएगा। बलरामजी दास टंडन ने 18 जुलाई 2014 को छत्तीसगढ़ में राज्यपाल पद की शपथ ली थी।

टंडन जनसंघ के संस्थापक सदस्यों में से एक थे। जनसंघ बाद में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) बन गया। अपने लंबे राजनीतिक कॅरियर में टंडन पंजाब के उप मुख्यमंत्री सहित विभिन्न पदों पर रहे। छह दफा विधायक रहे टंडन आपातकाल के दौरान 1975 से 1977 तक जेल में थे। राज्यपाल के निधन की खबर लगते ही आंबेडकर अस्पताल में लोगों का तांता लग गया है।

उनकी बीमारी के बारे में जानने के बाद मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित कई मंत्री, नेता और अफसर आंबेडकर अस्पताल में मौजूद थे। जनसंघ के संस्थापक सदस्य और भाजपा के वरिष्ठ नेता रहे टंडन ने 18 जुलाई 2014 को छत्तीसगढ़ के राज्यपाल का पद संभाला था। उनका अंतिम संस्कार पंजाब में उनके गृहग्राम में किया जाएगा।

गौरतलब है कि अपने लंबे राजनीतिक करियर में टंडन पंजाब के उप मुख्यमंत्री सहित विभिन्न पदों पर रहे। छह बार विधायक रहे टंडन आपातकाल के दौरान 1975 से 1977 तक जेल में भी रहे। उन्होंने 1977-79 में और 1997-2002 में प्रकाश सिंह बादल की अध्यक्षता में मंत्रालयों में कैबिनेट मंत्री के रूप में भी कार्य किया है।

नई दिल्ली। दिल का दौरा पड़ने से छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलरामदास टंडन का रायपुर के मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में निधन हो गया। उनको मंगलवार सुबह दिल का दौरा पड़ने के बाद अंबेडकर अस्पताल(मेकाहारा) में भर्ती कराया गया था। दोपहर में राज्यपाल का हाल जानने पहुंचे मुख्यमंत्री रमन सिंह ने उनके निधन की जनकारी दी। शाम 4 से 5 बजे के बीच उनका शव अंतिम दर्शन के लिए राजभवन में रखा जाएगा। बलरामजी दास टंडन ने 18 जुलाई 2014 को छत्तीसगढ़…