शुगर का इलाज कराने ‘कंबल बाबा’ के पास पहुंचे छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री, फोटो वायरल

chattisgadh

Chhattisgarh Home Minister Ramsewak Paikra Reached Kambal Baba

छत्तीसगढ़। पूरे देश में फर्जी बाबाओं को लेकर बहस तेज है। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम और आसाराम जैसे तथाकथित बाबाओं के बेनकाब होने के बावजूद अभी भी लोग अंधविश्वास से नाता नहीं तोड़ पाये हैं। छत्तीसगढ़ से एक और बाबा आज कल चर्चा का विषय हैं, जिन्हे लोग कंबल बाबा के नाम से जानते हैं। कंबल बाबा की तारीफ में राज्य के गृहमंत्री राम सेवक पैकरा ने खूब कसीदे पढे और उनसे अपनी शुगर का इलाज कराने जा पहुंचे। लोगों का कहना है, बाबा कंबल ओढ़ाकर कानों में मंत्र फूंक दें तो बड़ी से बड़ी बीमारी छू मंतर हो जाती है। बस शर्त इतनी है कि बाबा के दरबार में पांच बार आना होता है।
दरअसल, छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री राम सेवक की एक फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इसमें गृहमंत्री कथित ‘कंबल बाबा’ से दवाई लेते नजर आ रहे हैं। बलरामपुर के सरहदी इलाके में रहने वाला यह कंबल बाबा शुगर की बीमारी को जड़ से खत्म करने का दावा करता है। इतना ही नहीं दवा के रूप में कंबल बाबा शक्कर ही देते हैं।
कंबल बाबा को लेकर जब गृहमंत्री रामसेवक ने कहा, मैं अपने क्षेत्र के दौरे पर था। करीब पांच हजार लोग वहां पहले से मौजूद थे। मैंने भी वहां खड़े होकर देखा कि जो शख्स चल नहीं पा रहा था उसे मालिश करके बाबा ने चला दिया। मुझे ये सब चम्मकार जैसा लगा। मुझे शुगर है इसलिए मैं भी वहां चला गया। इलाज के लिए यहां पांच बार आना होता है। तभी इलाज हो सकेगा। बाबा ने मुझे एक चम्मच शक्कर दी है।
बता दें कि कंबल वाले बाबा का असली नाम गणेश है, वह गुजरात का रहने वाला है। दावा है कि वह 28 साल से इलाज कर रहे हैं। यह भी दावा है कि पहले वह बोल और सुन नहीं सकते थे, भगवान की कृपा से बोलने-सुनने लगे।

छत्तीसगढ़। पूरे देश में फर्जी बाबाओं को लेकर बहस तेज है। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम और आसाराम जैसे तथाकथित बाबाओं के बेनकाब होने के बावजूद अभी भी लोग अंधविश्वास से नाता नहीं तोड़ पाये हैं। छत्तीसगढ़ से एक और बाबा आज कल चर्चा का विषय हैं, जिन्हे लोग कंबल बाबा के नाम से जानते हैं। कंबल बाबा की तारीफ में राज्य के गृहमंत्री राम सेवक पैकरा ने खूब कसीदे पढे और उनसे अपनी शुगर का इलाज कराने…