छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: राहुल बोले- सत्ता में आए तो 10 दिनों में किसानों का ऋण पूरी तरफ माफ

rahul-gandhi
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: राहुल बोले- सत्ता में आए तो 10 दिनों में किसानों का ऋण पूरी तरफ माफ

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि अगर उनकी पार्टी राज्य में सत्ता में आई तो 10 दिनों के अंदर किसानों के ऋण पूरी तरफ माफ कर दिए जाएंगे। राहुल ने भाजपा पर दो छत्तीसगढ़ बनाने का आरोप लगाया। उन्होने कहा, एक अमीरों के लिए, दूसरा गरीबों व शोषितों के लिए। राज्य विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी पर मित्र पूंजीवाद के लिए और मुख्यमंत्री रमन सिंह व उनके परिवार पर भ्रष्टाचार के लिए निशाना साधा।

Chhattisgarh Rahul Gandhi Says Will Waived Off Farmers Loan If Congress Government Will Come In Power :

राहुल ने कहा, “छत्तीसगढ़ का गठन इसलिए किया गया था, ताकि प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल गरीबों के कल्याण के लिए किया जा सके, लेकिन अब हमारे पास दो छत्तीसगढ़ है -एक सूट-बूट पहनने वाले अमीरों का और दूसरा गरीबों, शोषितों, किसानों और कामगारों का।” राहुल ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, “हम दो छत्तीसगढ़ नहीं चाहते हैं, हम न्याय चाहते हैं।”कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया कि केंद्र ने चंद उद्योगपतियों के 3.5 लाख करोड़ रुपये के ऋण माफ कर दिए, लेकिन अबतक किसानों का एक भी रुपये ऋण माफ क्यों नहीं किया गया।

राहुल ने कहा, “मैंने मोदी से पूछा है कि वह क्यों नहीं गरीब किसानों के कर्ज माफ कर देते हैं, लेकिन वह कभी जवाब नहीं देते। इसलिए मैं यहां से घोषणा करता हूं कि राज्य में सत्ता में आने के 10 दिनों के भीतर हम सभी किसानों के ऋण माफ कर देंगे।”नोटबंदी और राफेल सौदे को लेकर मोदी पर हमला तेज करते हुए राहुल ने कहा कि चोरों ने मोदी की मदद से अपने काले धन को नोटबंदी के जरिए सफेद कर लिया।राहुल ने आरोप लगाया कि मोदी लोगों के समक्ष केवल झूठ बोलते हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के बेटे अभिषेक का नाम पनामा पेपर्स मामले में आया है। उनका टैक्स हेवेन में अघोषित खाता है। यहां 19 जिलों में 72 विधानसभा सीटों के लिए दूसरे चरण का मतदान 20 नवंबर को होगा। इससे पहले यहां मतदान के पहले चरण के अंतर्गत नक्सल प्रभावित आठ जिलों समेत 18 विधानसभा क्षेत्रों में 12 नवंबर को मतदान हुए थे। नतीजों की घोषणा 11 दिसंबर को होगी।

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि अगर उनकी पार्टी राज्य में सत्ता में आई तो 10 दिनों के अंदर किसानों के ऋण पूरी तरफ माफ कर दिए जाएंगे। राहुल ने भाजपा पर दो छत्तीसगढ़ बनाने का आरोप लगाया। उन्होने कहा, एक अमीरों के लिए, दूसरा गरीबों व शोषितों के लिए। राज्य विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी पर मित्र पूंजीवाद के लिए और मुख्यमंत्री रमन सिंह व उनके परिवार पर भ्रष्टाचार के लिए निशाना साधा।राहुल ने कहा, "छत्तीसगढ़ का गठन इसलिए किया गया था, ताकि प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल गरीबों के कल्याण के लिए किया जा सके, लेकिन अब हमारे पास दो छत्तीसगढ़ है -एक सूट-बूट पहनने वाले अमीरों का और दूसरा गरीबों, शोषितों, किसानों और कामगारों का।" राहुल ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, "हम दो छत्तीसगढ़ नहीं चाहते हैं, हम न्याय चाहते हैं।"कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया कि केंद्र ने चंद उद्योगपतियों के 3.5 लाख करोड़ रुपये के ऋण माफ कर दिए, लेकिन अबतक किसानों का एक भी रुपये ऋण माफ क्यों नहीं किया गया।राहुल ने कहा, "मैंने मोदी से पूछा है कि वह क्यों नहीं गरीब किसानों के कर्ज माफ कर देते हैं, लेकिन वह कभी जवाब नहीं देते। इसलिए मैं यहां से घोषणा करता हूं कि राज्य में सत्ता में आने के 10 दिनों के भीतर हम सभी किसानों के ऋण माफ कर देंगे।"नोटबंदी और राफेल सौदे को लेकर मोदी पर हमला तेज करते हुए राहुल ने कहा कि चोरों ने मोदी की मदद से अपने काले धन को नोटबंदी के जरिए सफेद कर लिया।राहुल ने आरोप लगाया कि मोदी लोगों के समक्ष केवल झूठ बोलते हैं।कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के बेटे अभिषेक का नाम पनामा पेपर्स मामले में आया है। उनका टैक्स हेवेन में अघोषित खाता है। यहां 19 जिलों में 72 विधानसभा सीटों के लिए दूसरे चरण का मतदान 20 नवंबर को होगा। इससे पहले यहां मतदान के पहले चरण के अंतर्गत नक्सल प्रभावित आठ जिलों समेत 18 विधानसभा क्षेत्रों में 12 नवंबर को मतदान हुए थे। नतीजों की घोषणा 11 दिसंबर को होगी।