छोटा शकील मरा नहीं जिंदा है, एक साजिश के तहत फैलाई गयी मौत की खबर

110506-dawood-ibrahim-chhota-shake

मुंबई। अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील अब इस दुनिया में नहीं रहा, उसकी मौत हो गयी, उसे मार दिया गया। इस तरह की खबरें आप तक भी पहुंची होंगी। हालांकि अभी सिर्फ यह अफवाहें ही हैं क्योकि अभी तक इस बात की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। खबरों के अनुसार वह आज भी जिंदा है लेकिन इस तरह की भ्रामक खबरें दुनिया को गुमराह करने के लिए एक साजिश के तहत फैलाईं गयी हैं। अंडरवर्ल्ड पर नजर रखने वाले अधिकारियों का कहना है कि इस खबर में सचाई नहीं है। पुलिस सूत्रों को शक है कि शकील के खिलाफ शायद अनीस ऐसी खबरें उड़वा रहा है। अनीस और शकील में दो दशक से मतभेद हैं।

Chhota Shakeel Is Not Dead News Of Death Spread Under A Conspiracy :

इस खबर के बारे में पुलिस आयुक्त दत्तात्रय पडसलगीकर ने कहा कि हमारे पास इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। वहीं, महाराष्ट्र एटीएस के प्रमुख अतुलचंद्र कुलकर्णी ने भी कहा कि उन्हें इसके बारे में पता नहीं है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि छोटा शकील को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के निर्देश पर मार दिया था। बताया गया है कि आईएसआई ने 57 वर्षीय इस गैंगस्टर को मारने के लिए अपने शूटरों का इस्तेमाल किया था, क्योंकि उसे नियंत्रण करना मुश्किल हो रहा था।

ये बातें भी चल रही हैं कि छोटा शकील को एक बड़ा दिल का दौरा पड़ा था। उसे फौरन हवाई एंबुलेंस से रावलपिंडी स्थित कंबाइंड मेडिकल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। एक अन्य रिपोर्ट में कहा गया है कि छोटा शकील को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के निर्देश पर मार दिया था। बताया गया है कि आईएसआई ने 57 वर्षीय इस गैंगस्टर को मारने के लिए अपने शूटरों का इस्तेमाल किया था, क्योंकि उसे नियंत्रण करना मुश्किल हो रहा था। रिपोर्ट बताती हैं कि दाऊद और शकील के बीच पैदा हुए विरोध को खत्म कराकर फिर से दोनों में शांति स्थापित करने की आईएसआई ने कोशिश की थी, लेकिन कोशिश में फेल होने के बाद खुफिया एजेंसी ने शकील को खत्म करने का फैसला किया। क्योंकि एजेंसी को खतरा था कि दोनों के बीच पैदा हुए विवाद का फायदा भारत को मिल सकता है। इससे एजेंसी द्वारा चलाई जा रहीं भारत विरोधी गतिविधियों को नुकसान हो सकता है।

मुंबई। अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील अब इस दुनिया में नहीं रहा, उसकी मौत हो गयी, उसे मार दिया गया। इस तरह की खबरें आप तक भी पहुंची होंगी। हालांकि अभी सिर्फ यह अफवाहें ही हैं क्योकि अभी तक इस बात की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। खबरों के अनुसार वह आज भी जिंदा है लेकिन इस तरह की भ्रामक खबरें दुनिया को गुमराह करने के लिए एक साजिश के तहत फैलाईं गयी हैं। अंडरवर्ल्ड पर नजर रखने वाले अधिकारियों का कहना है कि इस खबर में सचाई नहीं है। पुलिस सूत्रों को शक है कि शकील के खिलाफ शायद अनीस ऐसी खबरें उड़वा रहा है। अनीस और शकील में दो दशक से मतभेद हैं।इस खबर के बारे में पुलिस आयुक्त दत्तात्रय पडसलगीकर ने कहा कि हमारे पास इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। वहीं, महाराष्ट्र एटीएस के प्रमुख अतुलचंद्र कुलकर्णी ने भी कहा कि उन्हें इसके बारे में पता नहीं है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि छोटा शकील को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के निर्देश पर मार दिया था। बताया गया है कि आईएसआई ने 57 वर्षीय इस गैंगस्टर को मारने के लिए अपने शूटरों का इस्तेमाल किया था, क्योंकि उसे नियंत्रण करना मुश्किल हो रहा था।ये बातें भी चल रही हैं कि छोटा शकील को एक बड़ा दिल का दौरा पड़ा था। उसे फौरन हवाई एंबुलेंस से रावलपिंडी स्थित कंबाइंड मेडिकल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। एक अन्य रिपोर्ट में कहा गया है कि छोटा शकील को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के निर्देश पर मार दिया था। बताया गया है कि आईएसआई ने 57 वर्षीय इस गैंगस्टर को मारने के लिए अपने शूटरों का इस्तेमाल किया था, क्योंकि उसे नियंत्रण करना मुश्किल हो रहा था। रिपोर्ट बताती हैं कि दाऊद और शकील के बीच पैदा हुए विरोध को खत्म कराकर फिर से दोनों में शांति स्थापित करने की आईएसआई ने कोशिश की थी, लेकिन कोशिश में फेल होने के बाद खुफिया एजेंसी ने शकील को खत्म करने का फैसला किया। क्योंकि एजेंसी को खतरा था कि दोनों के बीच पैदा हुए विवाद का फायदा भारत को मिल सकता है। इससे एजेंसी द्वारा चलाई जा रहीं भारत विरोधी गतिविधियों को नुकसान हो सकता है।