1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मुख्यमंत्री योगी के क्षेत्र गोरखपुर के गगहा में अंधाधुन चली गोलियां, दुकानदार समेत स्टॉफ की मौत

मुख्यमंत्री योगी के क्षेत्र गोरखपुर के गगहा में अंधाधुन चली गोलियां, दुकानदार समेत स्टॉफ की मौत

आपकों बता दें कि कल रात्री में 8 बजे गोरखुपर में इलेक्ट्रॉनिक की दुकान में अज्ञात हमलावरों द्वारा दुकानदारों को अंधाधुन गोली मारकर के हत्या कर दी गई। ये घटना स्थल गगहा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आता है। जहां सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 40 वर्षीय शंभू मौर्या पुत्र भारत भूषण मौर्य निवासी कोठा डेमुसा मोड़ पर इलेक्ट्रॉनिक की दुकान चलाता था वहां अज्ञात बदमाश पहुंचकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। जिसमें बुरी तरीके से शंभू मौर्या सहित दो लोग घायल हो गए हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के सभी अपराधियों ने प्रदेश छोड़ दिया ​है। कानून व्यवस्था पहले की सरकारों की अपेक्षा बहुत बेहतरीन है। लगातार अपराधियों के एंकाउंटर हो रहे हैं। अपराधी या तो मारे जा रहे हैं या प्रदेश छोड़ के भाग रहे हैं। सुशासन ही सुशासन हर तरफ है। ऐसे दावें राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ किसी भी मंच पर अक्सर करते नजर आते है।

पढ़ें :- Manish Gupta Murder: क्या हुआ होगा घटना वाली रात, ये समझने के लिए रिक्रिएशन करने गोरखपुर जायेगी सीबीआई की टीम

पूरे भारत में किसी भी मंच पर मुख्यमंत्री अगर मौजूद है और वो अपनी बात अगर रखेंगे तो उसमें इन बातों को वो दोहराना कतई नहीं भूलते। अगर ऐसा ही हो रहा है तो फिर ये क्या है।  उनके ही पूर्व संसदीय क्षेत्र में एक ऐसी घटना घटी है जिससे पूरे इलाके में दहशत का माहौल बन गया है। आपकों बता दें कि कल रात्री में 8 बजे गोरखुपर में इलेक्ट्रॉनिक की दुकान में अज्ञात हमलावरों द्वारा दुकानदारों को अंधाधुन गोली मारकर के हत्या कर दी गई।

ये घटना स्थल गगहा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आता है। जहां सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 40 वर्षीय शंभू मौर्या पुत्र भारत भूषण मौर्य निवासी कोठा डेमुसा मोड़ पर इलेक्ट्रॉनिक की दुकान चलाता था वहां अज्ञात बदमाश पहुंचकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। जिसमें बुरी तरीके से शंभू मौर्या सहित दो लोग घायल हो गए हैं। शंभू मौर्य का घटना स्थल पर मृत्यु हो गई दूसरा व्यक्ति संजय पांडेय मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया। बताया जाता है कि संजय पांडेय शंभू मौर्या की दुकान पर काम करता था।

अब सीसी कैमरा के जरिए हमलावरो को पहचानने का प्रयास किया जा रहा है। शंभू की दुकान पर सीसी कैमरा लगा हुआ है। उसी कैमरे की मदद से हमलावरों को पहचानने की कोशिश की जा रही है। जांच होने के बाद ही पता चल पाएगा कि हमलावरों ने शंभू व संजय की हत्या क्यों की। बरहाल कारण जो भी हो हमलावर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाते हुए फरार हो गए। चौराहे के लोग तमाशा देखते रह गए। उसके बाद वहां के ग्रामिणों ने एनएच 29 पर जाम लगा दिया।

आला अधिकारी डीआईजी गोरखपुर परिक्षेत्र, गोरखपुर डॉक्टर डॉ प्रीतिंदर सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार, पी क्षेत्राधिकारी बासगांव जगत नारायण कनौजिया ने घटनास्थल पर पहुंच कर व्यापारियों को समझा-बुझाकर जाम को खुलवाया और हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की बात कही। बताया जाता है कि शंभू तीन भाई थे अभी 15 माह पूर्व शंभू की शादी हुई थी।

पढ़ें :- यूपी में ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण नीति से कोविड हुआ कंट्रोल : योगी

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...