1. हिन्दी समाचार
  2. संघ प्रमुख के काफिले की चपेट में आने से बच्चे की मौत

संघ प्रमुख के काफिले की चपेट में आने से बच्चे की मौत

Child Dies Due To Sangh Chiefs Convoy

By बलराम सिंह 
Updated Date

जयपुर। आरएसएस के सर संघ चालक मोहन भागवत ने बुधवार को अपने जन्मदिन के मौके पर राजस्थान में अलवर जिले के गहनकर गांव में 123 वर्षीय बाबा कमलनाथ का आशीर्वाद लिया। वापस लौटते समय अलवर जिले के हरसोली कस्बे में संघ प्रमुख के काफिले की एक कार की टक्कर लगने से बाइक सवार छह साल के बच्चे की मौत हो गई। पुलिस ने कार कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

पढ़ें :- किसी समय कोई चौकीदार था तो कोई वेटर, लेकिन आज हैं ये 8 बॉलीवुड के चमकते सितारे

पुलिस के मुताबिक हादसे में बाइक चला रहे चेतराराम यादव गंभीर रूप से घायल हो गए, उन्हें इलाज के लिए जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया है। चेतराराम यादव मुंडावर गांव के सरपंच हैं। वह यहां किसी काम से आये थे। बाइक पर उनके साथ बेटा भी बैठा था। चेतराराम यादव को टक्कर मारने वाली कार को बहरोड़ में रोक लिया गया।

पुलिस के मुताबिक यह हादसा उस समय हुआ जब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत अलवर जिले के गहनकर गांव में बाबा कमलनाथ से मुलाकात कर जयपुर लौट रहे थे। हादसे के बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई। आक्रोशित लोगों ने हंगामा करते हुए सड़क पर जाम लगा दिया। पुलिस ने किसी तरह समझा बुझाकर मामला शांत कराया।

असाध्य रोगों का इलाज करते हैं बाबा कमलनाथ

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने अपने 69 वें जन्मदिन पर बाबा कमलनाथ का आर्शिवाद लिया। बिहार के गोविंदपुर में 1896 में जन्में बाबा कमलनाथ करीब 80 साल पहले अलवर में तिजारा के जंगलों में आकर रहने लगे थे। इसके बाद 1965 में वह गहनकर गांव में रहने लगे। 1980 में बाबा कमलनाथ ने आश्रम बनाया। इसके बाद वह आश्रम में ही रहकर गंभीर बीमारियों की दवा देते हैं। उनके आश्रम में मुख्य रूप से कैंसर, मिर्गी और रक्तचाप की जड़ी बूटियों से बनी हुई दवा मिलती है। अधिकांश जड़ी बूटियां नेपाल से मंगाई जाती हैं।

पढ़ें :- 11 बहुओं ने सास को ही मान लिया देवी, सोने के गहने पहनाकर प्रतिमा की रोज करती हैं पूजा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...