जीवनभर की कमाई चिता पर रख जलवाई

पेइचिंग। एक व्यक्ति की जीवनभर की कमाई 21 लाख 78 हजार रुपए नकद राशि को उसकी चिता पर रखकर उसका अंतिम संस्कार किया गया। यह घटना चीन की है। इस व्यक्ति की अंतिम इच्छा थी कि उसके जीवनभर की कमाई को उसके दोनों बेटों को देने के बजाए उसके साथ चिता पर रख कर जलवा दिया जाए।

दरअसल, देखभाल नहीं करने को लेकर यह व्यक्ति अपने दोनों बेटों से खफा था। पूर्वी चीन के जियांग्सू प्रांत के रहने वाले ताओ ने अपनी वसीयत में लिखा था कि मरने पर उसकी जीवनभर की कमाई को उसके साथ ही जला दिया जाए।

स्थानीय श्मशान घाट में कार्यरत कर्मचारी यांग ली ने स्थानीय मीडिया को बताया कि उसने कई महीने पहले एक शव के साथ हजारों डॉलर की नकदी को जलते देखा। दस साल पहले ताओ ने अपनी जमीन दोनों बेटों को दे दी थी और गांव से दूर किराए के मकान में रहने लगा था। वह कचरा बीनकर गुजारा करता था। बढ़ती उम्र के चलते ताओ ने अपने बेटों से मदद मांगी।

उसे उम्मीद थी कि वह अपना अंतिम समय दोनों से किसी एक बेटे के साथ गुजारेगा, लेकिन दोनों बेटों ने कोई न कोई बहाना बनाकर उसे मना कर दिया। ताओ ने किराए के घर में ही अंतिम सांस ली। मौत के बाद उसके बेटे उसके शव को श्मशान घाट ले गए। उसी समय एक रहस्यमय व्यक्ति ने आकर ताओ की अंतिम इच्छा के अनुसार 2,10,000 युआन यानी 33,052 डॉलर की पूरी कमाई उसकी चिंता पर रख दी।

उसके पड़ोसियों ने बताया कि यह जानकर कि अब उसकी जिंदगी के गिने-चुने दिन बचे हैं, ताओ ने खुद ही अपने लिए अंतिम समय में पहने जाने वाले पारंपरिक कपड़े सिलवा लिए और उन्हें पहनने लगा।