युद्ध की तैयारी में जुटा है चीन, कभी भी हो सकती है लड़ाई

नई दिल्ली। सिक्किम स्थित डोकलाम सीमा पर भारत-चीन के बीच जारी तनाव बढ़ता ही जा रहा है। चीनी मीडिया की माने तो चीन युद्ध की तैयारी में जुटा हुआ है, चीन ने युद्ध की तैयारी शुरू कर दी है। ग्लोबल टाइम्स में छपी एक खबर के अनुसार चीन ने ब्लड बैंकों को मिलिट्री इलाकों में शिफ्ट कर रहा है।

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि गतिरोध रोकने की एक ही कंडीशन है कि भारत अपनी सेना डोकलाम से वापस बुला ले। वहीं चीन की सोशल साइंस अकादमी के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल स्ट्रेटेजी की डायरेक्टर ये हेलिन ने ग्लोबल टाइम्स से कहा कि इसका मतलब है कि यदि भारत अपनी सेना हटाती है तो भी चीन इस मुद्दे को जाने नहीं देगा। चीन भारत को उसके भड़काउ व्यवहार के लिए माफ नहीं करेगा।

{ यह भी पढ़ें:- ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने पहुंचे पीएम मोदी, शी जिनपिंग से मुलाक़ात की संभावना }

इस खबर में लिखा है कि चीन को युद्ध के लिए तैयार रहना चाहिए क्योंकि भारतीय सेना पीछे नहीं हट रही। यदि खूनखराबा होता है तो चीन को मिलिट्री कॉन्फ्लिक्ट के लिए तैयार रहना चाहिए। चीन के मिलिट्री एक्सपर्ट सोंग झोंगपिंग ने कहा कि हथियारों की क्वालिटी और आर्मी के लिहाज से चीनी सेना की स्थिति बेहतर है, हालांकि पिछले कुछ सालों में भारत ने यूएस और रूस से हथियार खरीदे हैं। ग्लोबल टाइम्स की इस खबर में चीन की सेना के पास मौजूद हथियारों, रॉकेट लॉन्चरों आदि का बखान किया गया है और कहा गया है कि उनकी गुणवत्ता भारत ही नहीं पूरी दुनिया से बेहतर है।

ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक युद्ध की स्थिति में चीन तिब्बत के सिविलियन एयरपोर्ट्स को मिलिट्री विमानों के लिए इस्तेमाल कर सकता है। चीन के अलग-अलग इलाकों के अस्पतालों में खून के इस्तेमाल में कमी की जा रही है। चांगशा के एक अस्पताल के सूत्रों के हवाले से ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि चीन की आर्मी ने ब्लड बैंक को रिलोकेट कर दिया है और युद्ध की स्थिति में खून की सप्लाई को देखते हुए स्थानीय सरकार ब्लड डोनेशन के लिए लोगों को प्रोत्साहित कर रही है।

{ यह भी पढ़ें:- भारत की तरफ आँख उठाने की हिम्मत किसी में नहीं : राजनाथ सिंह }