1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. नेपाल में अपना वर्चस्व स्थापित करने की कोशिश में जुटा चीन, PM केपी शर्मा ओली से मिला चीनी प्रतिनिधमंडल

नेपाल में अपना वर्चस्व स्थापित करने की कोशिश में जुटा चीन, PM केपी शर्मा ओली से मिला चीनी प्रतिनिधमंडल

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। नेपाल में सियासी संकट बढ़ता जा रहा है। हाल में ही पूर्व पीएम केपी शर्मा ओली ने राष्ट्रपति विद्याा देवी भंडारी को सदन भंग करने का प्रस्ताव भेजाा था, जिसे स्वीकार कर लिया गया है। वहीं, चुनाव आयोग ने चुनाव की तारीख भी घोषित कर दी है। वहीं, इस बीच चीन नेपाल में लगातार अपना वर्चस्व स्थापित करने की कोशिश में जुटा हुआ है।

पढ़ें :- IND vs NZ 2nd Test : अश्विन-सिराज के आगे एजाज का परफेक्ट-10 फेल, भारत को 332 रन की बढ़त

काठमांडू में आज चीनी प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने पीएम केपी शर्मा ओली से मुलाकात की है। बता दें कि, नेपाल में सत्ताधारी नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी दो खेमें में बंट गई है। पीएम केपी शर्मा ओली और पूर्वी पीएम प्रचंड के बीच वर्चस्व की लड़ाई चल रही है। हालांकि दोनों के मनमुटाव की बात बीते कुछ महीनों से सामने आ रही है, जो कि चीन की चिंता बढ़ा दी है।

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के उपमंत्री के नेतृत्व में एक उच्चस्तरीय चीनी प्रतिनिधिमंडल नेपाल की राजनीतिक स्थिति का जायजा लेने के लिए रविवार को काठमांडू पहुंचा। ‘माई रिपब्लिका’ अखबार ने एनसीपी के वरिष्ठ नेताओं के हवाले से लिखा है कि दौरे के एजेंडे का विशिष्ट ब्यौरा उपलब्ध नहीं है, लेकिन कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) के अंतरराष्ट्रीय विभाग के उप मंत्री गुओ येझु के नेतृत्व में चार सदस्यीय दल काठमांडू में ठहरने के दौरान उच्चस्तरीय वार्ता करेगा।

एक राजनयिक सूत्र का हवाला देते हुए इसने कहा कि दौरे का उद्देश्य नेपाल की प्रतिनिधि सभा के भंग किए जाने और सत्तारूढ़ नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी में अलगाव के बाद उभरने वाली राजनीतिक स्थिति का जायजा लेना है। बीजिंग समर्थक के रूप में जाने जाने वाले प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने पूर्व प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ के साथ सत्ता को लेकर जारी रस्साकशी के बीच पिछले रविवार को एक अचानक उठाए गए कदम के तहत 275 सदस्यीय संसद को भंग करने की अनुशंसा कर दी थी।

पढ़ें :- यूपी विधानसभा चुनाव निकट देख मंदिर से दूरी बनाने वाले टेक रहे हैं मंदिरों में माथा : डॉ. दिनेश शर्मा 
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...