1. हिन्दी समाचार
  2. भारत की जगह अमेरिका भेज दी चीनी कंपनी ने 5 लाख किट, आधे घंटे में कर सकती है कोरोना की जांच

भारत की जगह अमेरिका भेज दी चीनी कंपनी ने 5 लाख किट, आधे घंटे में कर सकती है कोरोना की जांच

Chinese Company Sent 5 Million Kits To Us Instead Of India Can Test Corona In Half An Hour

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्र समेत देश के कई राज्यों ने चीन की एक कंपनी को जांच किट का ऑर्डर दिया था। खास तरह की यह किट महज आधे घंटे कोरोना संक्रमण की जांच कर सकती है, लेकिन चीन के निर्यातक व्यापारी ने माल को अमेरिका भेज दिया। यह जानकारी भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुख्य महामारी विशेषज्ञ डॉ. रमन आर गंगाखेड़कर ने दी है।

पढ़ें :- बंगालः नारेबाजी से नाराज हुईं ममता बनर्जी, कहा-किसी को बुलाकर बेइज्जत करना ठीक नहीं

उन्होंने कहा, पांच लाख किट का ऑर्डर दिया गया था। इनमें जिनमें से कुछ बहुत जल्द भारत पहुंचने वाली थीं लेकिन अब तक नहीं पहुंचीं। हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि जांच किट जल्द आ जाएंगी। वहीं तमिलनाडु के मुख्य सचिव शणमुगम ने पुष्टि करते हुए कहा, चीन की कंपनी को राज्य ने चार लाख रैपिड एंटीबॉडी किट्स का ऑर्डर दिया था। केंद्र ने भी इसी कंपनी को पांच लाख किट का ऑर्डर दिया है।

पहली खेप चीन से भारत आने वाली थी जिसमें करीब 50 हजार किट तमिलनाडु की थीं। लेकिन निर्यातक व्यापारी ने माल भारत न भेजकर अमेरिका भेज दिया। अब उम्मीद है कि जल्द ही ये माल अमेरिका से भारत पहुंचेगा। कोरोना की जांच करने वाली ये एंटीबॉडी किट महज आधे घंटे में बता देती हैं कि व्यक्ति कोरोना संक्रमित है या नहीं? अभी देश में एक सैंपल की जांच में 3 से 4 घंटे लगते हैं।

आईसीएमआर के एक वरिष्ठ वैज्ञानिक ने बताया कि जिस दिन देश में लॉकडाउन लागू हुआ था। उसी दिन 25 मार्च को 10 लाख एंटीबॉडी किट के आवेदन मांगे थे लेकिन कंपनियों से इतनी क्षमता में किट का आवेदन नहीं मिला। जिसके बाद 28 मार्च को 5 लाख किट की मांग रखी गई। हालांकि उसमें एक शर्त थी कि ज्यादा से ज्यादा किट की आपूर्ति पहले हफ्ते में होनी चाहिए। चीन की कंपनी के साथ इस पर करार हुआ और 9 अप्रैल तक भारत को 2.5 लाख किट मिलने वाली थीं।

उधर, स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक एंटीबॉडी जांच किट के लिए सभी प्रयास जारी हैं। राज्यों में कोरोना की जांच जरूरत के अनुसार चल रही है। देश के सभी सरकारी और प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों से भी वायरस जांच करने के आवेदन मांगे हैं। उन्होंने कहा, अगले दो से तीन दिन में ये किट मिल सकेंगी। सूत्रों के मुताबिक अब तक करीब 56 हजार पीपीई और 21 लाख एन-95 मास्क घरेलू निर्माता कंपनियों से मिल पाए हैं। जबकि 39 कंपनियों को सरकार ने 70 लाख पीपीई और 1.01 करोड़ एन-95 मास्क उपलब्ध कराने का ऑर्डर दिया था।

पढ़ें :- हमारे नेताजी भारत के पराक्रम की प्रतिमूर्ति भी हैं और प्रेरणा भी : पीएम मोदी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...