चिन्मयानंद मामला : पहली बार मीडिया से रूबरू हुई पीड़िता, कहा साल भर से यौन शोषण कर रहे थे स्वामी

chinmyanand case
चिन्मयानंद मामला : पहली बार मीडिया से रूबरू हुई पीड़िता, कहा साल भर से यौन शोषण कर रहे थे स्वामी

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री और भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद पर शोषण का आरोप लगाने वाली एलएलएम छात्रा सोमवार को पहली बार मीडिया के सामने आई। उसने कहा कि स्वामी चिन्मयानंद ने पूरे एक साल तक उसका यौन शोषण किया है। यहीं नहीं उसने कहा कि जब इसकी शिकायत उसने डीएम शाहजहांपुर से की तो उन्होने धमकाया। छात्रा का कहना है कि पुलिस केस दर्ज नहीं कर रही थी तो दिल्ली में जीरो एफआईआर करानी पड़ी। उसने कहा कि जांच के लिए शाहजहांपुर ट्रांसफर किया जाए।

Chinmayananda Case Victim Said That Swamy Had Been Sexually Abusing For A Year :

पत्रकारों के सामने पीड़ित छात्रा ने कहा कि जब उसके पिता ने पूरे मामले की शिकायत थाने में की तो डीएम का फोन आ गया और कहा कि आपको पता है किस पर मुकदमा दर्ज करवा रहे हो। पीड़िता ने डीएम पर कार्रवाई की मांग की है। उसने कहा कि एसआईटी ने मुझसे 8 घंटे पूछताछ की, लेकिन आरोपी से अब तक कोई पूछताछ क्यों नहीं हुई।

बता दें कि पीड़िता ने उत्तर प्रदेश सरकार को भी कटघरे में खड़ा कर दिया और कहा कि मुझे सरकार पर भरोसा नहीं है। पुलिस चिन्मयानंद के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज नहीं कर रही है। पीड़िता ने कहा कि मेरे परिवार को जान का खतरा है। स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ यौन उत्पीड़न करने के सारे सबूत हैं। इन्हें कोर्ट में पेश करूंगी। स्वामी की धमकी के बाद ही उसने दिल्ली और राजस्थान में शरण ली थी।

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री और भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद पर शोषण का आरोप लगाने वाली एलएलएम छात्रा सोमवार को पहली बार मीडिया के सामने आई। उसने कहा कि स्वामी चिन्मयानंद ने पूरे एक साल तक उसका यौन शोषण किया है। यहीं नहीं उसने कहा कि जब इसकी शिकायत उसने डीएम शाहजहांपुर से की तो उन्होने धमकाया। छात्रा का कहना है कि पुलिस केस दर्ज नहीं कर रही थी तो दिल्ली में जीरो एफआईआर करानी पड़ी। उसने कहा कि जांच के लिए शाहजहांपुर ट्रांसफर किया जाए। पत्रकारों के सामने पीड़ित छात्रा ने कहा कि जब उसके पिता ने पूरे मामले की शिकायत थाने में की तो डीएम का फोन आ गया और कहा कि आपको पता है किस पर मुकदमा दर्ज करवा रहे हो। पीड़िता ने डीएम पर कार्रवाई की मांग की है। उसने कहा कि एसआईटी ने मुझसे 8 घंटे पूछताछ की, लेकिन आरोपी से अब तक कोई पूछताछ क्यों नहीं हुई। बता दें कि पीड़िता ने उत्तर प्रदेश सरकार को भी कटघरे में खड़ा कर दिया और कहा कि मुझे सरकार पर भरोसा नहीं है। पुलिस चिन्मयानंद के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज नहीं कर रही है। पीड़िता ने कहा कि मेरे परिवार को जान का खतरा है। स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ यौन उत्पीड़न करने के सारे सबूत हैं। इन्हें कोर्ट में पेश करूंगी। स्वामी की धमकी के बाद ही उसने दिल्ली और राजस्थान में शरण ली थी।