1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. चिराग पासवान का छलका दर्द, कहा-नीतीश कुमार ने हमेशा हमारी पार्टी को तोड़ने का प्रयास किया

चिराग पासवान का छलका दर्द, कहा-नीतीश कुमार ने हमेशा हमारी पार्टी को तोड़ने का प्रयास किया

लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) में टूट के बाद चिराग पासवान का दर्द छलका है। उन्होंने एक बार फिर दर्द भरा पत्र जारी किया है। उन्होंने इस पत्र के जरिए पार्टी में टूट के लिए जेडीयू और सीएम नीतीश कुमार कसूरवार ठहराया है। वहीं, चाचा पशुपति पारस पर विश्वासघात करने का आरोप भी लगाया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Chirag Paswans Spilled Pain Said Nitish Kumar Always Tried To Break Our Party

नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) में टूट के बाद चिराग पासवान का दर्द छलका है। उन्होंने एक बार फिर दर्द भरा पत्र जारी किया है। उन्होंने इस पत्र के जरिए पार्टी में टूट के लिए जेडीयू और सीएम नीतीश कुमार कसूरवार ठहराया है। वहीं, चाचा पशुपति पारस पर विश्वासघात करने का आरोप भी लगाया।

पढ़ें :- चिराग पासवान को दिल्ली हाई कोर्ट से झटका, HC ने कहा- इसमें कोई नया आधार नहीं

चिराग ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर अपना पत्र जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ साझा किया है। पत्र में चिराग ने नेता दल (यूनाइटेड) पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हमेशा हमारी पार्टी को तोड़ने का काम किया। उन्होंने पत्र में लिखा है कि 2005 फरवरी के चुनाव में हमारे 29 विधायकों को तोड़ा गया और साथ ही साथ हमारे बिहार प्रदेश के अध्यक्ष को भी तोड़ने का काम किया गया।

उसके बाद 2020 में जीते हुए एक विधायक को भी तोड़ने का काम जेडीयू ने किया। आज लोक जनशक्ति पार्टी के 5 सांसदों को तोड़ जनता दल (यूनाइटेड) ने अपनी बांटो और शासन करो की रणनीति को दोहराया है। चिराग ने आगे लिखा कि रामविलास पासवान के जीवनकाल में कई बार नीतीश कुमार की ओर से उनकी राजनीतिक हत्या का प्रयास किया गया।

दलित व महादलित में बंटवारा करवाना उसी का एक उदाहरण है। उन्होंने मुझे और मेरे पिता को अपमानित करने का और राजनीतिक तौर पर समाप्त करने का कोई मौका नहीं छोड़ा। इतना कुछ होने पर भी रामविलास पासवान नहीं झुके। लोकसभा के चुनाव में हमारे 6 सांसदों को हराने में जनता दल (यूनाइटेड) के नेताओं ने कोई कसर नहीं छोड़ी।

 

पढ़ें :- मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार: जेडीयू नेता आरसीपी सिंह बनाए गए इस्पात मंत्री, नीतीश कुमार ने नहीं दी बधाई
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...