1. हिन्दी समाचार
  2. राजनीति
  3. नागरिकता कानून: मायावती बोलीं- भाजपा कर रही है भेदभाव की राजनीति

नागरिकता कानून: मायावती बोलीं- भाजपा कर रही है भेदभाव की राजनीति

Citizenship Law Mayawati Said Bjp Is Doing Politics Of Discrimination

लखनऊ। नागरिकता कानून को लेकर टीएमसी की ममता, कांग्रेस के राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के बाद अब बसपा सुप्रीमों मायावती ने भी केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है। मायावती ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार भेदभाव की राजनीति कर रही हैै। उनका कहना है ​बसपा इस कानून का खुलकर विरोध करेगी।

पढ़ें :- ममता बनर्जी ने चुनाव से पहले उठाई देश में चार राजधानियों की मांग, कहा-सिर्फ दिल्ली ही क्यों?

नागरिकता संशोधित कानून को लेकर देश के विभिन्न् हिस्सो के साथ साथ उत्तर प्रदेश में भी विरोध प्रदर्शन शुरू हो गये हैं। एमयू के छात्रों ने सबसे पहले प्रदर्शन की शुरूवात की जिसके बाद प्रदेश की राजधानी लखनऊ के नदवा के छात्रों ने भी पुलिस पर जमकर पथराव किया। आज सुबह होते ही सपा के विधायकों ने विधानसभा में नागरिकता कानून वापस लेने के लिए विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। वहीं अब बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी सरकार पर निशाना साधा है। इस दौरान उन्होने यूपी की कानूनू व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर भी हमला बोला।

मायावती ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि इस कानून में मुस्लिम समाज उपेक्षित है। सरकार के इस फैसले से बीएसपी बिल्कुल सहमत नहीं है। सरकार भेदभाव वाली राजनीति करने लगी है, केंद्र सरकार पाकिस्तान में की गई हिन्दुओं के साथ ज्यादिती का बदला भारत के मुस्लिमों से ले रही है, ये कदम मानवता के विरुद्ध है। उनका कहना है कि केन्द्र सरकार को पाकिस्तान के मुस्लिमों से बदला लेना चाहिए, भारत के मुस्लिमों से नहीं। उन्होने कहा कि पुलिस ने कैम्पस में घुसकर छात्रों के साथ ज्यादती की है जिसका सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान लिया है साथ ही नागरिकता संशोधित कानून को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती भी दी गई है। मायावती ने कहा कि बीएसपी के संसदीय दल ने राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...