1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. प्रधानमंत्री से सीएम गहलोत ने की बात, कहा-राज्यपाल के व्यवहार की शिकायत की

प्रधानमंत्री से सीएम गहलोत ने की बात, कहा-राज्यपाल के व्यवहार की शिकायत की

By शिव मौर्या 
Updated Date

जयपुर। राजस्थान में सिसासी पारा चढ़ता जा रहा है। इस बीच सीएम अशोक गहलोत ने दावा किया है कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से फोन पर बातचीत के दौरान राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र के बर्ताव के बारे में उन्हें जानकारी दी।

साथ ही सात दिन पहले लिखे खत के बार में भी जानकारी दी है। बता दें कि, सीएम अशोक गहलोत विधानसभा का सत्र बुलाने की राज्यपाल से कई बार मांग कर चुके हैं। लेकिन राज्यपाल कलराज मिश्र ने इजाजत नहीं दी है। इसे लेकर सीएम गहलोत और कांग्रेस विधायकों ने राजभवन में धरना प्रदर्शन भी किया था। बावजूद इसके राज्यपाल ने सत्र बुलाने की अनुमति नहीं दी।

इसके बाद सीएम अशोक गहलोत ने कैबिनेट बैठक बुलाकर 31 जुलाई को विधानसभा का सत्र बुलाने का प्रस्ताव फिर से राज्यपाल के पास भेजा था। गहलोत सरकार ने कहा कि उन्हें कोरोना के मद्देनजर 6 बिल को पास कराना है। इस प्रस्ताव को भी कलराज मिश्र ने ठुकरा दिया है और सरकार से कुछ सवाल पूछे हैं। विधानसभा सत्र को लेकर मुख्यमंत्री और राज्यपाल की लड़ाई बढ़ती जा रही है।

इस बीच सीएम अशोक गहलोत की माने तो उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की है और राज्यपाल कलराज मिश्र के बर्ताव के बारे में बताया है। इसके साथ ही सीएम गहलोत ने पीएम मोदी को पत्र भी लिखा था, जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘नरेंद्र मोदी जी, मैं आपका ध्यान राज्यों में चुनी हुई सरकारों को लोकतांत्रिक मर्यादाओं के विपरीत हॉर्स ट्रेडिंग के माध्यम से गिराने के लिए किये जा रहे कुत्सित प्रयासों की ओर आकृष्ट करना चाहूंगा।’

सीएम अशोक गहलोत ने लिखा, ‘हमारे संविधान में बहुदलीय व्यवस्था के कारण राज्यों एवं केंद्र में अलग-अलग दलों की सरकारे चुनीं जाती रही है। यह हमारे लोकतंत्र की खूबसूरती ही है कि इन सरकारों ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर लोकहित को सर्वोपरि रखते हुए काम किया है।’

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...