सीएम के आदेश का पालन, डीएम ने किया बॉयोमैट्रिक मशीनों का उदघाटन

बिजनौर। जिला अधिकारी जगतराज द्वारा मा0 मुख्यमंत्री के आदेशों के अनुपालन में बुधवार प्रात 9 बजे कलैक्ट्रेट कार्यालय परिसर में स्थापित की गयी बॉयोमैट्रिक मशीनों का फीता काट कर विधिवत् रूप से उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी विरा सुरेन्दराम, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट उद्वभव त्रिपाठी व अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।




जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम नजारत कक्ष में स्थापित बॉयोमैट्रिक मशीन का फीता काटा, उसके बाद संयुक्त कार्यालय कक्ष में स्थापित दूसरी मशीन का फीता काट कर ऑन लाईन अधिकारी एंव कर्मचारियों की उपस्थिति प्रणाली का विधिवत् रूप से फीता काट कर उद्घाटन किया। इसके अलावा उन्होंने एसएलओ, चकबंदी एवं उप जिलाधिकारी सदर कार्यालय में स्थापित की गयी मशीनों का उद्घाटन किया और कर्मचारियों से उपस्थिति दर्ज करा कर उसके संचालन की व्यवहारिक जांच की। इस अवसर पर बताया कि प्रत्येक मशीन में 50-्य50 अधिकारियों एवं कर्मचारियों की उपस्थिति दर्ज किये जाने की क्षमता है। उन्होनें बताया कि बॉयोमैट्रिक मशीन की स्थापना से शासकीय कार्यालयों में अधिकारियों एंव कर्मचारियो की समय से उपस्थिति सुनिश्चित की जा सकेगी और कार्य प्रणाली में अनुशासन भी आएगा। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि तहसीलों सहित जिले के सभी जिला, तहसील एवं ब्लॉक स्तरीय कार्यालयों में बॉयोमैट्रिक मशीन स्थापित कर उसकों संचालित करने के निर्देश सभी संबंधित अधिकारियों को दे दिये गये हैं।

जिलाधिकारी जगतराज ने बताया कि जिन अधिकारी एवं कर्मचारियों को फील्ड में जाना होता है, वे अपनी उपस्थिति 9 बजे दर्ज करा कर 11 बजे तक अपने कार्यालय में बैठेगें और जन सामान्य की शिकायतों एवं उनकी समस्याओं का निराकरण करने के बाद ही फील्ड में जाएगें तथा अन्य कर्मचारीगण 10 बजे तक अपनी उपस्थिति बॉयोमैट्रिक मशीन में दर्ज कराने के लिए स्वतंत्र हैं। उन्होंने सचेत करते हुए कहा कि निरंतर रूप से तीन दिन तक विलम्ब से आने वाले अधिकारी एंव कर्मचारी की एक दिन का आकस्मिक अवकाश काट दिया जाएगा और बिना अवकाश के अनुपस्थित रहने वाले शासकीय कर्मचारियों का एक दिन का वेतन काटा जाएगा।




उन्होनें सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देश दिये हैं कि निर्धारित समय में कार्यालय में अपनी उपस्थिति दर्ज करायें और कार्यालय छोड़ते समय भी बॉयोमैट्रिक मशीन में अपना प्रस्थान दर्ज करें। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि जिस उत्साह और निष्ठा के साथ आज अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा अपनी उपस्थिति का इंदराज बॉयोमैट्रिक मशीन का प्रयोग कर किया गया है, भविष्य में भी यही उत्साह बना रहेगा।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट