सीएम योगी ने राहुल गांधी को कहा ‘भगोड़ा’

नई दिल्ली। ‘गुजरात गौरव यात्रा’ में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुजरात की जमीन पर पैर रखते ही राहुल गांधी को आड़े हाथों लिया है। यहां वलसाड़ में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी की सियासी बयानबाजी का जवाब देते हुए कहा​ कि देश किसी समस्या का सामना कर रहा होता है तो राहुल गांधी इटली भाग जाते हैं।

विधानसभा चुनाव के चलते राजनीतिक अखाड़े में तब्दील हो चुके गुजरात में कांग्रेस और भाजपा आमने सामने हैं। कांग्रेस की ओर जहां राहुल गांधी ने मोर्चा संभाल रखा है वहीं भाजपा उन्हें घेरने के लिए यूपी से लेकर गुजरात तक कोशिशें कर रही है। हाल ही में राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में यूपी सरकार की ओर से एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, सीएम योगी आदित्यनाथ और केन्द्रीय मंत्री स्मृति इरानी ने राहुल गांधी को गुजरात के विकास पर टिप्पणी करने के लिए जमकर निशाने पर लिया था।

{ यह भी पढ़ें:- इस महीने तीसरी बार गुजरात पहुंचे पीएम मोदी, इन योजनाओं का हुआ शुभारंभ }

इसी क्रम में सीएम योगी अपने दो दिवसीय गुजरात दौरे पर पहुंचे हैं। ​गुजरात के चुनावी मौसम में सीएम योगी का दौरा गरमी बढ़ाने वाला साबित होता नजर आ रहा है। जिस तरह से गुजरात पहुंचते ही राहुल गांधी पर एक के बाद एक तीखे तंज कसना शुरू किया है, उसे देखकर लग रहा है कि अब तक गुजरात की जमींन पर एक तरफा हमले कर रहे राहुल गांधी को करारे जवाब मिलाना शुरू हो गया है।

गुजरात में अपनी पहली जनसभा को संबोधित कर रहे सीएम योगी ने अपने भाषण की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गुजरात के विकास का गुणगान करते हुए की। उन्होंने कहा कि गुजरात में कदम रखते ही लगता है मानोे किसी दूसरे देश में आ गए हों। गुजरात की सूरत बदलने का पूरा श्रेय पीएम मोदी के प्रयासों को जाता है। गुजरात में जन्मे नरेन्द्र मोदी ने गुजरता का विकास किया है तो अब वह प्रधानमंत्री के रूप में 125 करोड़ देशवासियों के लिए काम कर रहे हैं। आज उनके नेतृत्व में पूरा देश दुनियाभर में गौरव प्राप्त कर रहा है, सम्मान प्राप्त कर रहा है।

{ यह भी पढ़ें:- चुनावी मूड में नजर आए पीएम मोदी, राहुल को जवाब देते हुए शाह पर दी सफाई }

उन्होंने पीएम मोदी को गुजरात का सम्मान करार देते हुए कहा कि अब ये गुजरात के लोगों को निश्चित करना है कि उन्हें अपना सम्मान बचाए रखना चाहते हैं या नहीं।

इसके बाद राहुल गांधी के बयानों का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि जो लोग गुजरात के विकास को लेकर अभद्र टिप्पणी करते हैं वे संकट की घड़ी में देश छोड़कर भाग जाते हैं। जब गुजरात बाढ़ के संकट से जूझ रहा था तब वह इटली में घूम रहे थे। गुजरात ही नहीं देश के किसी भी राज्य में जब विपदा आती है तो वे नजर नहीं आते। तब न तो कांग्रेस का पता लगता है और ना ही राहुल गांधी का। अचानक से उन्हें अमेरिका में सपना आता है।

उन्होंने कहा कि देश को आजादी मिलने के बाद महात्मा गांधी ने स्वयं कांग्रेस को समाप्त करना चाहते थे, कांग्रेस ने उनकी उपेक्षा। कांग्रेस ने बार—बार सरदार पटेल की भी उपेक्षा की।

{ यह भी पढ़ें:- पटना यूनिवर्सिटी में पीएम मोदी ने दिया दिवाली का तोहफा, 20 यूनिवर्सिटी को दिया 10 हजार करोड़ का फंड }

कांग्रेस जो विकास की बात करती है उनसे पूछिये कि रायबरेली और अमेठी से इंदिरा गांधी और राजीव गांधी लगातार सांसद रहे और प्रधानमंत्री भी रहे। वहां क्या विकास हुआ? गांधी परिवार केवल दबाव की राजनीति करता रहा है। मनमोहन सिंह दस सालों तक प्रधानमंत्री रहे लेकिन हमेशा गांधी परिवार की ओर ही देखते रहे कि उन्हें क्या बोलना है।

सीएम योगी ने राहुल गांधी का नाम लिए बिना कहा कि जो लोग विकास के नाम पर गुजरात की जनता को गुमराह करने निकले हैं वे आतंकवाद के समर्थक हैं, भ्रष्टाचारी हैं। गुजरात का गौरव सरदार पटेल की परंपरा से जुड़ा है, जिसे आगे ले जाना गुजरातवासियों की जिम्मेदारी है।

अपने भाषण के अंत में सीएम योगी ने कहा कि गुजरात और यूपी का रिश्ता बहुत पुराना है। कभी अयोध्या से भगवान राम यहां आए थे। मथुरा से भगवान कृष्ण द्वारिका आए थे। बाबा गोरक्षनाथ भी गुजरात आए थे। अब गुजरात से पीएम मोदी यूपी आए और यूपी से सांसद भी चुने गए। वे पूरे देश का गौरव का हैं और गुजरात का सम्मान हैं। गुजरात को देश के गौरव के साथ खड़े होकर अपने सम्मान को चुनाव करना चाहिए।

{ यह भी पढ़ें:- दिवाली के बाद राहुल गांधी को मिल सकता है प्रमोशन }