प्रयागराज: बीस साल पुराने हत्या के मामले में सीएम योगी को मिली राहत, नहीं चलेगा केस

cm yogi aditynath
प्रयागराज: बीस साल पुराने हत्या के मामले में सीएम योगी को मिली राहत, नहीं चलेगा केस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बीस साल पहले दर्ज हुए हत्या के एक मामले में बड़ी राहत मिली है। दरअसल सीएम योगी पर वर्ष 1999 में महाराजगंज में पुलिस कांस्टेबल सत्य प्रकाश यादव के मर्डर के मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ था।

Cm Yogi Adityanath Gets Relief In 20 Years Old Murder Case :

इस मामले में सीबीसीआईडी ने फाइनल रिपोर्ट लगा थी, जिसे साल भर पहले सीजेएम कोर्ट ने भी सही माना था। जिसके बाद सीजेएम के आदेश को प्रयागराज की स्पेशल एमपी एमएलए कोर्ट चुनौती दी गई थी। जहां इस मामले की सुनवाई चल रही थी। अब सुनवाई के दौरान कोर्ट ने भी सीजेएम के आदेश को सही मानते हुए पिटीशन को खारिज कर दिया।

बता दें कि इस आदेश से सीएम योगी के खिलाफ हत्या का मुकदमा नहीं चलेगा। गौरतलब हो कि महाराजगंज की सपा नेता तलत अज़ीज़ ने सीएम योगी पर ये हत्या का मामला दर्ज कराया था। जिसके बाद सीएम योगी ने भी तलत अज़ीज़ व अन्य के खिलाफ क्रास एफआईआर दर्ज कराई थी। दोनों ही मामलों में दाखिल पिटीशन आज कोर्ट ने खारिज कर दीं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बीस साल पहले दर्ज हुए हत्या के एक मामले में बड़ी राहत मिली है। दरअसल सीएम योगी पर वर्ष 1999 में महाराजगंज में पुलिस कांस्टेबल सत्य प्रकाश यादव के मर्डर के मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मामले में सीबीसीआईडी ने फाइनल रिपोर्ट लगा थी, जिसे साल भर पहले सीजेएम कोर्ट ने भी सही माना था। जिसके बाद सीजेएम के आदेश को प्रयागराज की स्पेशल एमपी एमएलए कोर्ट चुनौती दी गई थी। जहां इस मामले की सुनवाई चल रही थी। अब सुनवाई के दौरान कोर्ट ने भी सीजेएम के आदेश को सही मानते हुए पिटीशन को खारिज कर दिया। बता दें कि इस आदेश से सीएम योगी के खिलाफ हत्या का मुकदमा नहीं चलेगा। गौरतलब हो कि महाराजगंज की सपा नेता तलत अज़ीज़ ने सीएम योगी पर ये हत्या का मामला दर्ज कराया था। जिसके बाद सीएम योगी ने भी तलत अज़ीज़ व अन्य के खिलाफ क्रास एफआईआर दर्ज कराई थी। दोनों ही मामलों में दाखिल पिटीशन आज कोर्ट ने खारिज कर दीं।